कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज | Cholesterol Kam Karne Ke Upay

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज – आजकल की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में लोग गलत-खान पान और अनियमित दिनचर्या का लाइफस्टाइल अपनाते हैं। जिसके परिणाम स्वरुप  कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की समस्या होने लगती है। अगर शरीर में कोलेस्ट्रॉल सामान्य स्तर से अधिक बढ़ जाए तो हृदय रोग, रक्तचाप जैसी कई बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है।

कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए कई प्रकार की अंग्रेजी दवाइयां आती है। लेकिन अपने दैनिक जीवन में बदलाव और घरेलू नुख्से अपनाकर भी बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम किया जा सकता है। आज के इस पोस्ट में हम विस्तार से जानेंगे कि कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज क्या है।

Page Contents

कोलेस्ट्रॉल क्या है – What is Cholesterol in Hindi

Cholesterol Kam Karne Ke Upay

कोलेस्टॉल एक फैटी पदार्थ होता है जो शरीर में हार्मोन निर्माण और हार्मोनों को नियंत्रित करने के लिए आवश्यक होता है। इसके अलावा कोलेस्ट्रॉल शरीर में विटामिन-डी और और पित्त लवण का निर्माण करता है जो भोजन को पचाने में मदद करता है।

कोलेस्ट्रॉल को हाइपरकोलेस्ट्रॉलमिया , हाइपरलिपिडिमिया और हाइपरलिपोप्रोटीनेमिया के नाम से भी जाना जाता है। शरीर में कोलेस्टॉल का उत्पादन लीवर करता है। यह  प्रोटीन के साथ मिलकर लिपोप्रोटीन बनाता है और रक्तप्रवाह के द्वारा शरीर के सभी अंगों तक पहुंचता है।

स्वस्थ मानव शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर 3.6 मिलिमोल/लीटर से 7.8 मिलिमोल/लीटर के बीच होता है। जब कोलेस्ट्रॉल का स्तर 7.8 मिलिमोल/लीटर से अधिक हो जाता है तो उसे हाई कोलेस्ट्रॉल कहा जाता है।

कोलेस्ट्रॉल के प्रकार – Types of Cholesterol in Hindi

कोलेस्ट्रॉल हमारे शरीर की कोशिकाओं की बाहरी परत में पाए जाने वाले फैटी पदार्थ होता हैं। शरीर को सही तरीके से काम करने के लिए कोलेस्टॉल बहुत आवश्यक होता है। आमतौर पर कोलेस्ट्रॉल दो प्रकार के होते होते हैं खराब कोलेस्ट्रॉल (LDL) और अच्छा कोलेस्ट्रॉल (HDL).

LDL कोलेस्ट्रॉल –

LDL का फुल फॉर्म Low Density Lipoprotein होता है जिसका मतलब निम्न-घनत्व लिपोप्रोटीन, खराब या हानिकारक कोलेस्ट्रॉल। LDL कोलेस्ट्रॉल हृदय और मस्तिष्क को रक्त प्रवाह करने वाली धमनियों ब्लॉक कर देता है जिससे हार्टअटैक और स्ट्रोक आने का खतरा होता है।

HDL कोलेस्ट्रॉल –

LDL का फुल फॉर्म High Density Lipoprotein होता है जिसका मतलब उच्च-घनत्व लिपोप्रोटीन, अच्छा या गुड कोलेस्ट्रॉल। शरीर में HDL कोलेस्ट्रॉल सामान्य स्तर होने से हृदय और मस्तिष्क स्वस्थ रहता है। साथ ही मनुष्य का वजन नियंत्रित रहता है।

कोलेस्ट्रॉल कम करने के घरेलू उपाय – Cholesterol Kam Karne Ke Gharelu Upay

अगर आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर अधिक है तो इसे घटाने प्रयास करना चाहिए। क्योंकि शरीर में कोलेस्ट्रॉल की अधिक मात्रा होने से कई गंभीर बीमारियाँ होने का खतरा रहता है।

आज हम आपको कुछ ऐसे तरीकों के बारे में बताएँगे जिसकी मदद से शरीर का उच्च कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम हो सकता है। तो चलिए जानते हैं कि कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज क्या है।

1.)  कोलेस्ट्रॉल कम करने में फायदेमंद है अलसी

कोलेस्ट्रॉल कम करने के रामबाण इलाज में अलसी बहुत लाभकारी होती है। अलसी के बीज में मौजूद फाइबर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है।

इसके अलावा अलसी में ओमेगा 3 वसीय अम्ल पाया जाता है जो हृदय रोग के खतरे को कम करता है। इसके लिए अलसी के बीज को पीसकर पाउडर बना लें और सलाद के साथ सेवन कर सकते हैं।
(और पढ़ें – अलसी के फायदे)

2.) कोलेस्ट्रॉल कम करने में करें जैतून तेल का प्रयोग

हाई कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए जैतून का तेल का इस्तेमाल किया जा सकता है। जैतून तेल में अनसैच्यूरेटेड फैट मौजूद होता है जो कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करता है साथ ही शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है।
(और पढ़ें – जैतून का तेल के फायदे)

3.) कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज में फायदेमंद है आंवला

आंवले का सेवन करने से कोलेस्ट्राॅल काे नियंत्रित किया जा सकता है। आंवले में विटामिन-सी की भरपूर मात्रा पायी जाती है। साथ ही आंवले में एंटीऑक्सीडेंट और हाइपोलिपिडेमिक गुण पाए जाते हैं जो शरीर में खराब कोलेस्ट्राॅल को कम करके अच्छे कॉलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करते हैं।

इसके लिए रोजाना सुबह खाली पेट 1 गिलास गुनगुने गर्म पानी में  2 चम्मच आंवले का चूर्ण डालकर सेवन करें या आंवले का जूस पी सकते हैं।
(और पढ़ें –आंवला के फायदे

4.) हाई कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने का उपाय है ओट्स

हाई कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के लिए ओट्स का सेवन किया जा सकता है। ओट्स में बीटा- ग्लूकन नामक तत्व पाया जाता है जो हाई कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने में मदद करता है।

इसके लिए आप दूध के साथ नाश्ते में दलिया बनाकर सेवन करें या फिर सूप के रूप में ओट्स का सेवन किया जा सकता है।
(और पढ़ें – ओट्स खाने के फायदे)

5.) कोलेस्ट्रॉल कम करने में ग्रीन टी के फायदे

कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज में ग्रीन टी पी सकते हैं। ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इसके लिए रोजाना ग्रीन टी का सेवन कर सकते हैं।

6.) कोलेस्ट्रोल कैसे घटाएं प्याज से

प्याज का इस्तेमाल स्वादिष्ट व्यजन बनाने के साथ-साथ कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए भी किया जा सकता है। प्याज में हाइपोलिपिडेमिक और एंटीऑक्सीडेंट तत्व मौजूद होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को घटाने में मदद करते हैं।

इसके लिए आप अपने आहार में प्याज को शामिल कर सकते हैं।
(और पढ़ें – प्याज खाने के फायदे)

7.) कोलेस्ट्रोल कम करने के घरेलू नुस्खे में करें लहसुन का उपयोग

लहसुन के औषधीय गुण शरीर में हानिकारक कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करते हैं। साथ ही अच्छे कोलेस्ट्रॉल बनाने में मदद करता है। कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज करने के लिए नियमित रूप से लहसुन का सेवन कर सकते है।
(और पढ़ें – लहसुन खाने के फायदे)

8.) कोलेस्ट्रॉल घटाने में करें चिया सीड्स का प्रयोग

चिया के बीज का इस्तेमाल करने से हृदय संबंधी रोगों से छुटकारा मिलता है साथ ही कोलेस्ट्रोल कम करने के में भी मदद करता है।

चिया के बीज में फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को कम करके शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल के निर्माण में सहायक होते हैं। इसके लिए चिया के बीज को पानी में भिगोकर, दही के साथ या फिर इसका पाउडर बनाकर हैं
(और पढ़ें – चिया सीड्स के फायदे)

9.) कोलेस्ट्रॉल कम करने में सेब का सिरका है फायदेमंद

कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज में सेब का सिरका बहुत उपयोगी माना जाता है। सिरके में एसेटिक एसिड नामक तत्व पाया जाता है, जो बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है।

इसके लिए सेब के सिरके को पानी में मिलाकर पी सकते हैं। इसके अलावा इसे सलाद के साथ मिलाकर भी इसका सेवन कर सकते हैं।
(और पढ़ें – सेब का सिरका पीने के फायदे)

10.) कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज में असरदार होता है नींबू

कोलेस्ट्रॉल की समस्या छुटकारा पाने के लिए नींबू का इस्तेमाल किया जा सकता है। नींबू में विटामिन-सी की उच्च मात्रा पाई जाती है जो रक्तवाहिका नलियों की सफाई करता है और बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करता है।
(और पढ़ें –नींबू के फायदे

कोलेस्ट्रॉल में क्या नहीं खाना चाहिए? – Foods to Avoid Cholesterol in Hindi

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर कुछ चीजो का परहेज करना चाहिए जैसे –

  • ऐसे खाद्य पदार्थ जिनमे नमक की मात्रा अधिक हो, उनका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अगर आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल अधिक है तो नारियल तेल या नारियल से बनी अन्य चीज़ों का परहेज करना चाहिए।
  • हाई सैच्यूरेटेड फैट युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचें  जैसे मक्खन, पनीर।
  • तली-भुनी चीज़ों का परहेज करें जैसे आलू के फ्राइज़, पिज़्ज़ा, बर्गर,चिप्स।
  • अगर आपका कोलेस्ट्रॉल ज़्यादा है तो मैदे से बनी चीजों का सेवन न करें जैसे समोसा, पास्ता, चाउमीन।
  • बढ़ें हुए कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए अंडे का पीला हिस्सा यानी (योक) का सेवन न करें।
  • मांसाहारी भोजन जैसे (मीट, चिकन, मछली) में अधिक मात्रा में कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है इसलिए इनका सेवन कम करें।

कोलेस्ट्रॉल कम करने की एक्सरसाइज – Cholesterol Kam Karne ki Exercise

एक्सरसाइज करने से न सिर्फ आप शरीर स्वस्थ रहता है, बल्कि एक्सरसाइज करने से व्यक्ति का बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कम हो सकता हैं।

आज के समय में कोलेस्ट्रॉल एक गंभीर समस्या बन गई है जिसे नियंत्रित रखने के लिए डॉक्टर भी सभी को एक्सरसाइज करने की सलाह देते हैं। तो चलिए जानते हैं कि कोलेस्ट्रॉल कम करने की एक्सरसाइज कौन-कौन सी है।

1.) दौड़ लगाना या तेज गति से चलना

नियमित रूप से दौड़ लगाने से शरीर और हृदय दोनों स्वस्थ रहते हैं। दौड़ने से खून के संचार शरीर के सभी अंगों में होता है और कोलेस्ट्रोल भी नियंत्रित रहता है। अगर आप दौड़ने में थक जाते हैं तो तेज गति से चल सकते हैं, इससे भी आपके शरीर को फायदा मिलेगा।

2.) साइकिलिंग

कोलेस्ट्रॉल कम करने की एक्सरसाइज साइकिलिंग एक अच्छा विकल्प हो सकता है। जो लोग दौड़ने में असमर्थ है वो साइकिलिंग के द्वारा अपने शरीर को फिट रख सकते हैं। साइकिलिंग करने से घुटनों को बहुत फायदा मिलता है।

3.) तैराकी

अगर आप घर या आसपास स्विमिंग पूल की सुविधा है तो तैराकी करके कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित कर सकते है। इसके अलावा तैराकी करने से आपका वजन नियंत्रित रहता है। इसलिए जो लोग अपने बढ़े हुए वजन को कम करना चाहते हैं उन्हें स्विमिंग जरुर करना चाहिए।

योग हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने या सुधारने के संबंध में योग के जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ हैं। 2013 में इंडियन हार्ट जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में बताया गया है कि योग एचडीएल के स्तर को बढ़ाने के साथ-साथ टाइप 2 मधुमेह वाले लोगों में ट्राइग्लिसराइड्स, एलडीएल और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है।

4.) योग

योग एक ऐसा माध्यम है, जिसकी मदद से शरीर के कई बिमारियों को दूर किया जा सकता है। योग हृदय स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने में और कोलेस्ट्रॉल कि नियंत्रित रखने में मदद करता है। तो चलिए जानते हैं कि कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए कौन सा योग करें।

  • सर्वांगासन
  • पश्चिमोत्तासन
  • कपालभाति
  • अर्धमत्स्येन्द्रासन
  • अनुलोम-विलोम
  • शलभासन
  • चक्रासन

निष्कर्ष
मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज (Cholesterol Kam Karne Ke Upay) जरुर पसंद आया होगा. इस पोस्ट में बताई गई सभी जानकारी इन्टरनेट से ली गई हैं इसलिए कोई भी प्रयोग करने से पहले किसी डॉक्टर या विशेषज्ञ की सलाह जरुर लें।
अन्य पढ़ें –

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

18 Comments

      1. संजीव भाई, आप रोज तेज गति से रोज आधा घण्टा साइकिल चलाया करें, तेज गति से पैदल चलें या दौड़ा करें और नीम, कच्ची हल्दी तथा गिलोय की पत्तियाँ चबाया करें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *