घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा, 100% लाभ मिलेगा

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा – रोजमर्या की ज़िंदगी में चोट लगना और घाव होना आम बात है। हमारे शरीर में विभिन्न प्रकार से घाव हो सकते हैं जैसे कि आग से जलने पर या कटने से, खरोच आने से या अन्य वजह से घाव हो जाता है।

इनमें से कुछ घाव बहुत छोटे होते हैं जो अपने आप ठीक हो जाते हैं। लेकिन कई बार चोट लगने के कारण त्वचा से रक्तस्राव होने लगता है और गहरा घाव हो जाता है। ऐसी स्थिति में घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा की आवश्यकता पड़ती है।

आज के इस पोस्ट में हम आपको घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनका इस्तेमाल आप आंतरिक घावों को ठीक करने के लिए कर सकते हैं।

घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा
घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा

घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा – Ghav Sukhane Ki Antibiotic Dawa

घाव सुखाने के लिए एंटीबायोटिक दवा का इस्तेमाल इसलिए किया जाता है कि क्योंकि हमारी त्वचा पर लगे घावों के ऊपर विभिन्न प्रकार के बैक्टीरिया और जर्म्स जमा हो जाते हैं। जो Infection को और भी ज्यादा बढ़ाने का काम करते हैं। और घाव को भरने नहीं देते हैं।

ऐसे में एंटीबायोटिक दवाइयाँ बहुत असरदार होती हैं और घाव को जल्दी सुखाने सुखाने में मदद करती करती हैं। घाव पर एंटीबायोटिक दवा का इस्तेमाल करने से घाव जल्दी भर जाते हैं और जल्दी ठीक भी होते हैं। मार्केट में घाव को सुखाने के लिए कई तरह की एंटीबायोटिक दवाइयाँ और क्रीम उपलब्ध हैं, जिनका इस्तेमाल करने से घाव को जल्दी सूखकर ठीक हो जाते हैं।

तो चलिए जानते हैं कि घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा कौन-कौन सी है –

1.) Amoxicillin Clavulanate Tablet

घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा के रूप में Amoxicillin Clavulanate Tablet का इस्तेमाल किया जा सकता है। इस टैबलेट का इस्तेमाल घाव को जल्दी सुखाने के लिए किया जाता है और इसकी विशेषता यह है कि यह बैक्टीरियल इन्फेक्शन को रोकने और जलन को भी कम करने में भी मदद करते हैं।

इस टैबलेट का इस्तेमाल शरीर के आंतरिक घावों को भरने के लिए किया जाता है जैसे कि हमारा यूरीन एरिया या फिर नाक कान के संक्रमण इत्यादि। हम आपको सलाह देंगे कि इस एंटीबायोटिक दवा का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

(2) Prednisolone Tablet

अगर आप कटे या छिले हुए घाव को ठीक करना चाहते हैं तो Prednisolone Tablet का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस दवा का सेवन करने से घाव के ऊपर के बैक्टीरिया और जर्म्स ख़त्म होते है और घाव बहुत जल्दी सूखकर ठीक होने लगता है।

यह दवा आपको किसी भी जनरल मेडिकल स्टोर में आसानी से मिल जायेगी। लेकिन इस एंटीबायोटिक दवा को बिना किसी डॉक्टर की सलाह के इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। कुछ लोगो को इस दवा से एलर्जी की समस्या हो सकती है इसलिए इस्तेमाल से पहले डॉक्टर का सलाह अवश्य लें।

(3) Cefuroxime Tablet

घाव को सुखाने के लिए या घाव भरने के लिए आप Cefuroxime Tablet का इस्तेमाल कर सकते हैं। हमारे घाव के ऊपर बैक्टीरियल इन्फेक्शन को रोकने में मदद मिलती हैं साथ ही जलन की समस्या से राहत मिलती है।

इस एंटीबायोटिक दवा का इस्तेमाल शरीर के अन्य कई हिस्से में बैक्टीरियल इन्फेक्शन से होने वाले संक्रमण को रोकने के लिए किया जाता है। हालांकि बिना किसी डॉक्टर की सलाह के इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

(4) Dicloxacillin Tablet

घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा के रूप में Dicloxacillin Tablet का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह दवा घाव में होने वाले संक्रमण के जीवाणुओं को ख़त्म करता है और घाव को सूखने में मदद करता है। जिससे घाव जल्दी भरने लगते हैं।

अगर आप शरीर के किसी हिस्से में घाव हैं और जल्दी सूख नहीं रहे हैं तो डिक्लोक्सेसिलिन एंटीबायोटिक दवा का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह दवा घाव को सुखाने के लिए बहुत कारगर दवाई मानी जाती है लेकिन इसके इस्तेमाल करने से पहले आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

(5) Warfarin Tablet

अगर आप घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा की तलास कर रहे हैं तो Warfarin Tablet आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है। यह दवा खून के थक्का को जमने से रोकती है साथ ही घाव को सुखाने में कारगर मानी जाती है।

इस एंटीबायोटिक दवा का सेवन बिना डॉक्टर के सलाह के नहीं करना चाहिए। अगर आप अपनी मर्जी से इस दवा का सेवन करते हैं तो ज्यादा या कम खुराक लेने पर इसका बुरा असर देखने को मिल सकता है।

घाव भरने की क्रीम – Ghav Bharne Ki Cream

अगर आप एंटीबायोटिक दवाओं का इस्तेमाल करते हैं तो आंतरिक रूप से घावों को भरने में मदद मिलती है। इस साथ ही अगर शरीर के ऊपरी हिस्से में घाव है तो वहां पर घाव भरने की क्रीम का प्रयोग कर सकते हैं।

अगर कील मुंहासे या फोडे फुंसी के से आपके शरीर में घाव हो चुका है,तो आप घाव को भरने के लिए मेडिकल साइंस टेस्ट क्रीमों का प्रयोग कर सकते हैं। इन क्रीमों का इस्तेमाल करने से जहाँ घाव है वहां के इंफेक्शन को कम करते हैं और जो हानिकारक बैक्टीरिया का खात्मा करते हैं।

(1) Betadine Cream

Betadine Cream घाव भरने की बेहतरीन क्रीम मानी जाती है। यह एक एंटीसेप्टिक और डिसइंफेक्‍टेंट क्रीम है जिसे अधिकतर डॉक्टरों द्वारा रिकमेंड किया जाता है। यह क्रीम गहरे घावों को भरने के लिए भी कारगर होती है।

बीटाडीन क्रीम का इस्तेमाल केवल शरीर के बाहरी अंगों में किया जाता है। इसका इस्तेमाल अपने घाव पर ठीक वैसे ही करना चाहिए जैसा कि आपको डॉक्टर ने निर्देश दिया है। इस दवा को लगाने से पहले और लगाने के बाद आपको अपने हाथों को साबुन से धो लेना चाहिए।

(2) Neosporin Cream

अगर आपके शरीर पर खरोच आ गई है या किसी हिस्से पर चोट लग गई है तो इसे ठीक करने के लिए Neosporin Cream का प्रयोग कर सकते हैं। यह दवा आपके घाव भरने में कारगर मानी जाती है।

यह क्रीम आपको किसी भी नजदीकी मेडिकल स्टोर में आसानी से मिल जायेगी। निओस्पोरिन केवल बाहरी अंगों के लिए इस्तेमाल होने वाली क्रीम है और इसे डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह के अनुसार इस्तेमाल करना चाहिए।

(3) Polysporin Cream

छोटे बच्चों की शरीर पर लगे घावों को भरने के लिए Polysporin Cream कारगर मानी जाती हैं। यह दवा शरीर के ऊपर बने घाव के बैक्टीरियल इन्फेक्शन को ख़त्म करता है, साथ ही घाव को जल्दी से ठीक करने में मदद करता है।

यह दवा आपको किसी भी मेडिकल स्टोर पर आसानी से मिल जायेगी। अगर आप इस क्रीम का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही इस्तेमाल करें।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा कौन-कौन सी हैं। अगर शरीर पर किसी भी कारण से खरोंच का, छिलने या कट लगने से घाव बन जाता है तो बहुत दर्दनाक होती है। ऐसी स्थिति में लोग घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा इस्तेमाल करते है।

घाव पर एंटीबायोटिक दवा का इस्तेमाल करने से घाव के ऊपर जमे हुए बैक्टीरिया और जर्म्स को ख़त्म हो जाते है और घाव ठीक हो जाते हैं। इस पोस्ट को पढ़कर आप यह जान गए होंगे कि घावों को जल्दी से जल्दी ठीक करने के लिए घाव सुखाने की बेस्ट एंटीबायोटिक दवा कौन से है।

डिस्क्लेमर – इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए यहाँ पर बताई गई किसी भी दवा या मान्यता को अमल करने से पहले डॉक्टर या सम्बंधित विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

इन्हें भी पढ़ें–

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *