पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए? 100% लाभ मिलेगा

पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए – नारियल के बीज का प्रयोग कई धार्मिक कार्यों में किया जाता है। नारियल के बीज को भगवान् भोलेनाथ का आशीर्वाद माना जाता है। और ऐसा भी माना जाता है नारियल का बीज खाने से पुत्र की प्राप्ति होती है।

लेकिन नारियल के बीज खाने का विधि और समय को जानना बहुत आवश्यक है। अगर आप भी पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज खाना चाहते हैं तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

आज इस इस पोस्ट में हम जानेंगे कि पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए और नारियल का फूल खाने से लड़का होता है?

पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए
पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए

पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए?

पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज आपको सोमवार को शिव जी की पूजा करने के बाद खाना चाहिए। अगर सही विधि से शिव जी आराधना की जाए तो बहुत जल्द पुत्र प्राप्ति होती है।

पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल के बीज का सेवन करने की विधि नीचे बताई हैं, जिसका पालन आप कर सकते हैं।

  • सोमवार के दिन सुबह उठकर स्नान करें और साफ़ सुथरे वस्त्र धारण कर ले।
  • इसके बाद भगवान शिव की प्रतिमा के सामने बैठ जाएँ।
  • इसके बाद नारियल को शिव जी पर अर्पित करे।
  • इसके बाद घी का दीपक जलाए।
  • दीपक जलने के बाद ओम नम: शिवाय” मंत्र का जाप करें।
  • और फिर सच्चे मन के साथ पुत्र प्राप्ति की कामना करें।
  • अगर नारियल में नारियल का बीज है तो उसे शिव जी पर चढ़ा दें। अगर नारियल में बीज नहीं है तो उसे तभी नारियल शिव जी को अर्पित कर सकते हैं।
  • शास्त्रों के अनुसार शिवजी पर नारियल और नारियल का बीज दोनों चढ़ाया जाता है। लेकिन नारियल का बीज चढ़ाना अधिक महत्त्व रखता है।
  • जो नारियल या नारियल का बीज आपने शिव जी पर चढ़ाया था उसे उतारकर गंगाजल में डालकर रात भर के लिए रख दें।
  • अगले दिन यानी मंगलवार को हनुमान जी का ध्यान करते हुए निहार मुंह गाय के दूध के साथ सेवन करे।
  • नारियल के बीज को सीधे और साबुत निगलने की कोशिश करें।
  • पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज का उपाय आपको सोमवार के दिन ही करना है।

नारियल का फूल खाने से लड़का होता है?

यह एक धार्मिक और श्रद्धा का विषय है जिसमे लोगो का विश्वास है कि नारियल का फूल खाने से लड़का होता है। अगर विश्वास के नारियल का फूल या बीज का प्रयोग किया जाए तो भगवान् शिव का आशीर्वाद प्राप्त होता है। और नि:संतान दम्पति या पुत्र प्राप्ति की कामना करने वाले लोगो को उसका फल मिलता है।

नारियल को श्री फल भी कहा जाता है। हिन्दू धर्म में नारियल फोडने या चढाने की परंपरा वर्षो से चलती आ रही है। और इन्ही धार्मिक मान्यताओं के अनुसार नारियल के बीज के सेवन से पुत्र रत्न प्राप्त होती है।

नारियल का बीज कैसा होता है?

नारियल का बीज गोल और सफ़ेद रंग का होता हैं। नारियल का बीज नारियल के अन्दर से ही निकलता है। हालांकि कुछ ही ऐसे नारियल होते हैं जिनमे नारियल का बीज निकलता है।

नारियल या नारियल का बीज हिन्दू धर्म में धार्मिक क्रियाओं के लिए बहुत पवित्र माना जाता है। नारियल के बीज को पुत्र का स्वरूप भी मानते हैं। और जो पुत्र की प्राप्ति इच्छा रखता है वह नारियल के बीज का विधि पूर्वक प्रयोग करके पुत्र की प्राप्ति कर सकता है।

नारियल का बीज कैसे निकाले?

नारियल के अन्दर ही नारियल का बीज होता है। इसे बाहर निकालने के लिए आपको नारियल तोडना पड़ेगा तभी नारियल का बीज निकलता हैं। नारियल का बीज गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

ऐसी मान्यता है कि जो महिला पुत्र प्राप्ति की कामना रखती है उसे नारियल का बीज का सेवन करना चाहिए। कच्चे नारियल को तोड़ते समय उससे पानी बाहर निकलता है और इसमें एक सफेद रंग का नारियल का बीज होता है। पुत्र प्राप्ति की चाह रखने वाली महिला ध्यान रखें कि नारियल का बीज को चबाना नहीं है बल्कि इसे पानी के लिए सीधे निगल जाना चाहिए।

FAQs – पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए?

पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए?

पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज सोमवार को भगवान् शिव की आराधना करने के बाद खाना चाहिए।

नारियल का बीज कहां होता है?

नारियल का बीज नारियल के अन्दर होता है।

नारियल का बीज कैसे निकाले?

नारियल का बीज नारियल तोड़कर निकाले।

नारियल का बीज कैसा होता है?

नारियल का बीज दफेद रंग का और गोलाकार होता है।

नारियल का बीज किस दिन खाना चाहिए?

नारियल का बीज सोमवार के दिन खाना चाहिए।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज कब खाना चाहिए? नारियल का बीज नारियल के अन्दर से ही निकलता है। नारियल का बीज पुत्र का रूप माना जाता है। अगर को महिला सही विधि से सोमवार के दिन शिव जी की आराधना करने के बाद इसका सेवन करती है तो उसे पुत्र की प्राप्ति होती है।

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट जरूर पसंद आयी होगी। अगर आपके मन में इस पोस्ट से जुड़े कोई सवाल या सुझाव हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

इन्हें भी पढ़ें–

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *