शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन खाना चाहिए, 2 घंटे तक खड़ा रहेगा

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन खाना चाहिए – शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल डाबर कम्पनी द्वारा निर्मित एक आयुर्वेदिक दवा है जिसका इस्तेमाल पुरुषों द्वारा किया जाता है। इस दवा का सेवन करने से पुरुषों का शरीर जोशीला और फुर्तीला हो जाता है साथ ही शारीरिक सम्बन्ध के दौरान टाइमिंग बढ़ती है।

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल हमारे शरीर की कमजोरी को दूर करता है, मसल्स को ग्रो करता है साथ ही स्टेमिना बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा भी शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल लेने के कई सारे फायदे होते हैं जो आम लोगों को नहीं पता हैं।

आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे कि शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन खाना चाहिए, डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन में असर दिखाता है, शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल के फायदे और नुकसान इत्यादि। इन सभी सवालों के जवाब पाने के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन खाना चाहिए
शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन खाना चाहिए

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन खाना चाहिए – Shilajit Gold Capsule Kitne Din Khana Chahiye

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल एक आयुर्वेदिक दवा है जिसकी एक या दो कैप्सूल को रोजाना सुबह-रात में सेवन कर सकते हैं। यह दवा अपना असर दिखाने में 30 दिन से 90 दिन का समय लेती है। यह सेवन करने वाले व्यक्ति की शारीरिक स्थिति, तरीका, और अन्य तथ्यों पर निर्भर करता है।

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल तुरंत असर नहीं करता है जैसा कि मैंनफ़ोर्स, वियाग्रा जैसी अंग्रेजी टैबलेट खाने के आधे घंटे बाद घोड़ी पर सवार हो गए। अगर आप ऐसा सोच रहे हैं की डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल की एक ही खुराक लेने से आपकी खोई हुई पॉवर दुबारा आ जाएगी, तो ऐसा नहीं है। यह दवा अपना असर दिखाने में कम से कम एक महीने का समय लेती हैं।

इस कैप्सूल के नियमित सेवन करने से आपके शरीर में स्टैमिना पावर पहले के मुताबिक कई गुना बढ़ जायेगी, आपके वीर्य में शुक्राणु की संख्या में बढ़ोतरी होगी साथ ही शारीरिक सम्बन्ध के दौरान बिस्तर में आपकी परफॉरमेंस बढ़ जायेगी।

इसलिए अगर आप शारीरिक सम्बन्ध बनाने के दौरान जल्दी डिस्चार्ज हो जाते है और अपने पार्टनर को संतुष्ट नहीं कर पाते हैं तो आप डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल का सेवन कर सकते हैं। यह दवा आपकी वैवाहिक लाइफ को कई गुना मजेदार और आनंदमाय बना सकती है।

डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन में असर दिखाता है?

डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल एक अनूठा मिश्रण है, जो आपके सम्पूर्ण स्वस्थ के लिए बहुत लाभदायक होता है। लेकिन इसे मुख्य रूप से पुरुषों को ध्यान में रखकर बनाया गया है जो उनकी शारीरिक दुर्बलता को दूर करके शारीरिक संबंध से जुड़ी परेशानियों को दूर करता है।

डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल 30 से 90 दिन में असर दिखाता है। डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल एक आयुर्वेदिक दवा है और कोई भी आयुर्वेदिक दवाइयां अपना असर दिखाने में कम से कम एक महीने का समय लेती हैं। इसलिए अगर आप उन्हें बीच में ही लेना छोड़ देते हैं तो फिर इसका फायदा नहीं मिलता है।

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल खाने का तरीका

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल को आप रात और सुबह में खा सकते हैं। इसकी एक-एक कैप्सूल को खाना खाने के आधे घंटे बाद गुनगुने पानी या दूध के साथ खा सकते हैं। खाली पेट शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल का सेवन नहीं करना चाहिए।

अगर आप शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल लेने का मन बना रहे हैं तो हम आपको सलाह देंगे कि इस दवा का सेवन करने से पहले आपको आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह जरूर लेनी चाहिए। चिकित्सक आपकी स्वास्थ और उम्र के हिसाब से दवा लेने की सही दिशानिर्देश देगा।

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल के फायदे – Shilajit Gold Capsule Ke Fayde

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल बहुत ही कारगर आयुर्वेदिक औषधि मानी जाती है। इसका इस्तेमाल करने से कई प्रकार के रोगों को ठीक किया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं कि डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल खाने के फायदे क्या-क्या होते हैं।

  • बढ़ती उम्र के साथ-साथ पुरुषों में शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा भी कम होती जाती है। ऐसे डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल आपकी खोई हुई ताकत को पुनः जागृत करने का कार्य करता है।
  • अगर आप जल्दी थक जाते हैं और कोई काम नहीं कर पाते हैं तो इस समस्या को दूर करने के लिए शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल सेवन कर सकते हैं। शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल आपके शरीर में ऊर्जा शक्ति को बढ़ाता है और थकान जैसी समस्याओं से निजात दिलाता है।
  • अगर आप इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या से जूझ रहे हैं जिसे स्तंभन दोष या नपुंसकता भी कहा जाता है। इसका इलाज करने के लिए भी डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल बहुत असरदार होता है।
  • डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल में कैल्शियम और फोलिक एसिड जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो आपको जोड़ों के दर्द और अर्थराइटिस जैसी समस्याओं से राहत दिलाने में मदद करते है।
  • अगर कोई व्यक्ति शारीरिक दुर्बलता का शिकार है और कमजोरी महसूस करता है तो ऐसे कमजोर लोगो के लिए भी शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल बहुत कारगर माना जाता है।
  • डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल का नियमित रूप से सेवन करने से पुरुषों के शरीर में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ती है साथ ही शारीरक सम्बन्ध के दौरान टाइमिंग भी बढ़ती है।
  • अगर आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी की इम्यूनिटी कमजोर है तो यह दवा आपकी इम्युनिटी बढ़ाने में मदद कर सकती है।

डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल के नुकसान – Shilajit Gold Capsule Ke Nuksan

अगर आप अधिक मात्रा में डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल सेवन करते हैं तो इससे नुकसान भी हो सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल के नुकसान क्या-क्या होते हैं।

  • अगर आप ज्यादा मात्रा में डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल का सेवन करते हैं तो आपको एलर्जी की समस्या हो सकती हैं।
  • कई लोगो में इस दवा का सेवन करने से उल्टी आना, चक्कर आना, दिल की धडकन तेज होना आदि जैसी समस्या देखने को मिलती हैं।
  • निर्धारित मात्रा से अधिक और गलत तरीके से शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल का सेवन करने से त्वचा पर मुंहासे आदि हो सकते हैं।
  • कुछ लोगो को शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल खाने के बाद बार बार पेशाब लगने की समस्या हो सकती है।
  • ऐसे व्यक्ति जो कि किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं या कोई अन्य दवाइयों का सेवन कर रहे हैं तो इस स्थिति में आपको डॉक्टर की परामर्श लेनी चाहिए नहीं तो इसके नुकसान देखने को मिल सकते हैं।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने दिन खाना चाहिए। डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल पूर्ण रूप से एक हर्बल आयुर्वेदिक औषधि जिसमे कई प्रकार के कई पोषक तत्व और मिनरल्स मौजूद होते हैं जो स्टेमिना और इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं।

डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल का सेवन करने से पुरुषों के शरीर में स्पर्म काउंट बढ़ता है। साथ ही शारीरिक सम्बन्ध के दौरान बिस्तर में उनकी परफॉरमेंस बढ़ती है। अगर आप किसी भी बीमारी के लिए शिलाजीत का इस्तेमाल कर रहे हैं तो बेहतर रिजल्ट पाने में 30 से 90 दिन का समय लग सकता है।

डिस्क्लेमर – इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए यहाँ पर बताई गई किसी भी दवा या मान्यता को अमल करने से पहले डॉक्टर या सम्बंधित विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

इन्हें भी पढ़ें–

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *