स्त्री को जोश कब आता है, इन इशारों को जरूर समझें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

स्त्री को जोश कब आता है – शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए अन्दर दोनों को उत्तेजित अवस्था में होना चाहिए, तभी इस क्रिया में मजा आता है। अगर पुरुष उत्तेजित अवस्था में है और स्त्री में कोई उत्तेजित भावना नहीं है तो शारीरिक सम्बन्ध बनाने से चरम-सुख की प्राप्ति नहीं मिलती है।

पुरुषों के मुकाबले स्त्री को जोश आने में ज्यादा समय लगता है। पुरुष बहुत जल्दी उत्तेजित होकर शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए तैयार हो जाते हैं जबकि स्त्री को गर्म होने में थोड़ा समय लगता है।

कई पुरुष ऐसे होते है जो समझ नहीं पाते हैं कि स्त्री जोश में है या नहीं। तो चिंता करने की कोई जरूरत नहीं आज हम आपको बतायंगे कि स्त्री को जोश कब आता है और आप कैसे समझ सकते हैं कि स्त्री जोश में है या नहीं।

यह एक ऐसा विषय है जिसके बारे में लोग खुलकर बात नहीं करते हैं। लेकिन सभी शादी-शुदा पुरुषों के लिए जानना बहुत आवश्यक है तभी अपनी पार्टनर के साथ शारीरिक सम्बन्ध का मजा ले सकते हैं। इसलिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

स्त्री को जोश कब आता है
स्त्री को जोश कब आता है

स्त्री को जोश कब आता है – Stri Ko Josh Kab Aata Hai

स्त्री के निजी अंगो को सहलाने से जोश आता है। स्त्री को जोश में लाने के लिए आप फोरप्ले का सहारा ले सकते हैं। फोरप्ले के दौरान रोमांटिक बाते करना, गले लगाना, किस करना और निजी अंगो को छूना चाहिए, जिससे स्त्री को जोश आता है और वह शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए तड़पने लगती है।

जब पुरुष स्त्री को जोश में लाकर शारीरिक सम्बन्ध बनाते है स्त्री को जल्दी ही संतुष्टि मिल जाती है और दोनों को चरम-सुख का आनंद मिलता है। ‌‌‌हालांकि कुछ स्त्रियाँ ऐसी भी होती है जिनके अन्दर शारीरिक सम्बन्ध बनाने की भावना कम होती है। ऐसी स्त्रियों को जोश में लाना थोड़ा मुश्किल पड़ जाता है।

आमतौर पर अगर कोई शादीशुदा महिला लंबे समय अपने पति से दूर है और शारीरिक सम्बन्ध बनाने से वंचित है तो उसको जोश में लाना काफी आसान होता है। क्योंकि वह अपने शादी सुदा जीवन में कई बार सम्बन्ध बना चुकी होती है। और लम्बे समय बाद जब अपने पति से मिलती है तो तुरंत जोश में आ जाती है।

ओवुलेशन के समय स्त्री को जोश आता है और वह शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए तैयार रहती हैं। आमतौर पर महिलाओं का मासिक चक्र 28 से 30 दिनों का होता है, जिसमें मासिक धर्म शुरू होने के 7 से 14 दिन के पहले का समय ओल्यूशन का समय होता है। किसी महिला के ओल्यूशन समय में अंडा, अंडाशय से निकलकर फेलोपियन ट्यूब में पहुंच जाते हैं और पुरुष के वीर्य के इन्तजार में रहता है। इस समय महिलाओं को सबसे अधिक जोश आता है और शारीरिक सम्बन्ध बनाने से प्रेगनेंसी की सबसे ज्यादा सम्भावना होती है।

पीरियड्स के समय में भी स्त्री को जोश आता है। पीरियड्स महिलाओं को हर महीने आते हैं और इस समय उनके अन्दर बहुत बहुत अधिक उत्तेजना भी होती है। इस समय शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए आपको फोरप्ले करने के लिए आवश्यकता नहीं पड़ती है।

स्त्री को जोश में लाने के उपाय – Stri Ko Josh Me Lane ke Upay

स्त्री के कई ऐसे संवेदनशील अंग होते है। जिसे छूने और सहलाने मात्र से ही उनके अन्दर जोश आ जाता है और वह शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए जल्दी तैयार हो जाती हैं। तो चलिए जानते हैं कि स्त्री को जोश में लाने के लिए कौन-कौन से उपाय कर सकते हैं।

(1) गर्दन का हिस्सा

स्त्री की गर्दन बहुत संवेदनशील होती है। अगर कोई पुरूष स्त्री के गर्दन पर किस करता है तो वह जोश में आने लगती हैं। इसलिए अगर आप स्त्री को जोश में लाना चाहते हैं तो उसके गर्दन पर कुछ समय किस करें।

धीरे-धीरे इसका असर उसके शरीर पर भी पड़ने लग जाता है और उसे काफी अधिक जोश आने है। आप इस ‌‌‌बात को समझकर उसके साथ शारीरिक सम्बन्ध बना सकते हैं।

(2) नाभि का हिस्सा

स्त्री को जोश में लाने के लिए नाभि का हिस्सा बहुत संवेदनशील होता है। जब कोई पुरुष महिला के नाभि में किस करता है और हाथ सहलाता है तो महिला उत्तेजित होने लगती है।

यह एक बहुत अच्छा विकल्प हो सकता है स्त्री को जोश में लाने के लिए, वैसे आपको इसके बारे मे अधिक बताने की शायद जरूरत नहीं है। आप पहले से ही जानते होंगे कि नाभि पर किस करने से महिला को काफी अधिक जोश आता है और वो आपके साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए तुरंत ही तैयार हो जाएगी।

(3) गुब्बारे पकड़ना

महिला की बॉडी कुछ इस प्रकार होती है कि उसके कुछ अंगो को छूने से तुरंत जोश आ जाता है। उन्ही अंगों में से महिला के गुब्बारे होते है। स्त्री के गुब्बारे पुरुष को खूब पसंद आते हैं जब कोई पुरुष महिला के गुब्बारे दबाता और किस करता है तो वह तुरंत जोश में आ जाती है।

अगर आप किसी स्त्री के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाना चाहते हैं तो उसे जोश में लाने के लिए उसके दोनों गुब्बारों के साथ खूब खेले। थोड़ी देर बाद उसकी साँसे तेज चलने लगेगी और वह आपके साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए तैयार हो जायेगी।

(4) होंठों पर किस

महिलाओं का होंठ काफी संवेदनशील होता है। जब कोई पुरुष महिला के होंठ पर किस करता है तो वह तुरंत जोश में आ जाती है और शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए तड़पने लगती है।

आप इस बात को शायद पहले से भी जानते रहे होंगे कि अगर स्त्री को जोश लाना हो तो होंठ पर किस करना कितना फायदेमंद होता है। और महिलाएं जल्दी ही शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए तैयार हो जाती हैं।

(5) कमर का हिस्सा

स्त्री को जोश में लाने के लिए उसकी कमर बहुत मदद करती है। महिलाओं की कमर भी काफी ज्यादा मुलायम होती है। जब कोई पुरुष स्त्री की कमर को पकड़ता है और उसपर हाथ फेरता है तो महिलाएं काफी ज्यादा जोश में आ जाती है।

यदि आपकी शादी हो चुकी है तो आप भी अपनी पत्नी के साथ इस तरीके को अपना सकते हैं। शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए स्त्री और पुरुष दोनों का जोश में आना बहुत जरूरी होता है तभी चरम-सुख की प्राप्ति होती है।

(6) जांघों का अंदरूनी हिस्सा

महिलाओं के शरीर में जाँघों का अंदरूनी हिस्सा काफी ज्यादा संवेदनशील होता है। इस हिस्से का इस्तेमाल अधिकतर पुरुष स्त्री को जोश में लाने के लिए करते हैं। शारीरिक सम्बन्ध बनाने से पहले पुरुषों द्वारा महिलाओं के जाँघों के अंदरुनी हिस्से को छूना और सहलाने से उनके अन्दर जोश भर देता है।

इस प्रक्रिया को करने के लिए पुरुष अपने उंगली का भी सहारा लेते हैं। जोश में आने के बाद महिलाओं को शारीरिक सम्बन्ध बनाकर संतुष्ट करना काफी आसान हो जाता है। जिससे वे चरम सुख को प्राप्त कर सके और पूरी तरह अपने पार्टनर से संतुष्ट हो सके।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि स्त्री को जोश कब आता है। बहुत सारे पुरुष ऐसे होते हैं जिन्हें मालुम नहीं होता है कि स्त्री जोश में है या नहीं। शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए पुरुष और स्त्री दोनों का जोश में आना बहुत आवश्यक होता है, तभी चरम सुख का आनंद मिलता है।

अगर आपके मन में इस पोस्ट से जुड़े कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं। इसके अलावा इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं, जिससे अन्य लोगो को भी सही जानकारी मिलेगी।

इन्हें भी पढ़ें–

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *