अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न हो तो क्या करें, 100% लाभ मिलेगा

अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न हो तो क्या करें – अनवांटेड किट एक बहु चर्चित दवा है, जिसका इस्तेमाल महिलाओं द्वारा गर्भपात करने में किया जाता है। कई महिलाएं ऐसी होती हैं जो माँ नहीं बनना चाहती हैं और गर्भपात करवा देती हैं। हालांकि इसके पीछे के कई कारण हो सकते हैं जैसे कि महिला शादीशुदा नहीं है, कैरियर में सेटल होना, महिला शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार नहीं है या कोई अन्य कारण।

अगर आपके भी पीरियड्स का रुक गए है तो तुरंत अनवांटेड किट का सेवन ना करें, बल्कि सबसे पहले प्रेगनेंसी किट से जांच करें। अगर आपका रिजल्ट पॉजिटिव आता है और आप इस अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाना चाहती हैं तो डॉक्टर की सलाह लेकर अनवांटेड किट का इस्तेमाल कर सकती हैं।

अनवांटेड किट का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए, इसके बारे में जानना बहुत जरूरी होता है, नहीं तो आपको नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे कि अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न हो तो क्या करें। तो इस महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न हो तो क्या करें
अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न हो तो क्या करें

अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न हो तो क्या करें – Unwanted Kit Khane Ke Baad Bleeding Na Ho To Kya Karen

अगर अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाने के लिए अनवांटेड किट का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए। एक अनवांटेड-किट में दो प्रकार की गोलियाँ मौजूद होती हैं जिसमे 1 मिफेप्रिस्टोन की गोली और 4 मिसोप्रॉस्टोल की गोलियाँ होती हैं।

अनवांटेड किट को आप सुबह सेवन कर सकते हैं। इस दवा का सेवन करने से पहले आप हल्का खाना खा सकते हैं जैसे कि दलिया, खिचड़ी, ब्रेड, बिस्कुट, डबलरोटी, दूध, फ्रूट्स, जूस आदि। अनवांटेड किट खाने के 2 घंटे बाद तक कुछ नहीं खाना चाहिए, क्योकि उल्टी होने की संभावना ज्यादा रहती है।

सबसे पहले, आपको मिफेप्रिस्टोन की 1 गोली लेने की की सलाह दी जाती है। अगर आप मिफेप्रिस्टोन का सेवन करने के 30 मिनट के अन्दर ही उल्टी कर देते हैं, तो इस गोली का असर आप पर नहीं होगा। इसका मतलब है कि आपको दुबारा मिफेप्रिस्टोन की गोली की लेनी पड़ेगी।

अगर आपने मिफेप्रिस्टोन की गोली ले ली है तो आपको 24 से 48 तक घंटे प्रतीक्षा करनी चाहिए। इसके बाद, मिसोप्रोस्टोल की 4 गोलियों को अपनी जीभ के नीचे रख लें और उन्हें 30 मिनट तक पिघलने दें। 30 मिनट के बाद, आप पानी पीकर गोलियों के बचे हुए शेष भाग को निगल लें।

अगर मिफेप्रिस्टोन की 1 गोली लेने के बाद ही आपकी ब्लीडिंग शुरू हो जाती है। तो उसके बाद भी आपको मिसोप्रोस्टोल की 4 गोलियाँ लेनी है। इस दौरान आपको जी मिचलाना और उल्टी जैसा महसूस हो सकता है। इसका मतलब होता है कि अनवांटेड किट का असर आपके शरीर पर हो रहा है।

अगर आपको अनवांटेड किट की सभी गोलियाँ खाने के बाद भी ब्लीडिंग नहीं हो रही है तो इसका मतलब इस दवा का असर आपके शरीर पर नहीं हुआ है। ऐसी स्थिति में आपको अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न होने के कारण

अगर आप अनवांटेड किट लेंने का मन बना रही हैं तो आपको इसको लेने के तरीके और दिशा निर्देशों के बारे जरूर पता होना चाहिए। इसके लिए आप डॉक्टर की सलाह ले सकती हैं।

अनवांटेड किट खाने के बाद कई महिलाओं को ब्लीडिंग नहीं होती है। इसके पीछे के कई कारण हो सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न होने के कौन-कौन से कारण हो सकते हैं।

  • सही समय और सही खुराक ना लेने से अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग नही होती है।
  • अगर आपने एक्सपायरी डेट वाला अनवांटेड किट इस्तेमाल किया है तो जाहिर सी बात है कि आपको ब्लीडिंग नहीं होगी।
  • अगर आपकी प्रेगेनेंसी 49 दिन से अधिक है तो अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग ना होने की संभावना होती है।
  • अगर कोई महिला प्रेगनेंट ही नहीं है तो अनवांटेड किट खाने के बाद कोई ब्लीडिंग नहीं होगी।
  • अगर आपने कोई लोकल ब्रांड की अनवांटेड किट का इस्तेमाल किया है तो वह काम नहीं करेगी।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न हो तो क्या करें। अनवांटेड किट अपना असर दिखाने में लगभग 24-48 घंटे का समय ले सकती हैं। यह गर्भवती महिला के स्वास्थ्य और स्थित पर भी निर्भर करता है।

आप अनवांटेड किट का इस्तेमाल करके गर्भपात करना चाहती हैं तो ध्यान रहे कि आपकी प्रेगेनेंसी 49 से कम होनी चाहिए। अगर प्रेगेनेंसी को अधिक दिन हो गए है तो इसका असर होने की संभावना कम हो जाती है। इसके अलावा अगर अनवांटेड किट खाने के बाद ब्लीडिंग न हो तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

डिस्क्लेमर – इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए यहाँ पर बताई गई किसी भी दवा या मान्यता को अमल करने से पहले डॉक्टर या सम्बंधित विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

इन्हें भी पढ़ें–

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

1 Comment

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *