शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं – ऐसे कई सारे लोग होते हैं जिनके शरीर में असमय फोड़े-फुंसी अधिक निकलते हैं और वो समझ नहीं पाते हैं कि इसके पीछे क्या वजह हैं। वैसे तो फोड़े-फुंसी होने के कई कारण होते हैं। लेकिन उनमे से एक कारण आपके शरीर में विटामिन्स की कमी होना भी हो सकता है।

ऐसे बहुत सारे विटामिन्स होते हैं जो त्वचा को स्वस्थ और फोड़े-फुंसी निकलने से रोकने में मदद करते हैं। अगर आपके शरीर में इन विटामिन्स की कमी हो जाए तो त्वचा संक्रमित हो जाती हैं और फोड़े-फुंसी निकलने लगते हैं।

आज के इस पोस्ट में हम जानेगे कि शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं और इन विटामिन की कमी को कैसे पूरा किया जा सकता है।

शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं
शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं

शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं – Shareer me Fode Funsi Kis Vitamin ki kami Se Hote Hai

फोड़े-फुंसी शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकते हैं। फोड़े-फुंसी होने पर कई बार रोगी को असहनीय पीड़ा होती है। फोड़े-फुंसी होने के पीछे मुख्य कारण संक्रमण होता है।

चार ऐसे विटामिन जो त्वचा को संक्रमण से बचाते हैं और फोड़े-फुंसी को निकलने से रोकते हैं। ये चारों विटामिन अलग-अलग तरीकों से हमारी त्वचा का ख्याल रखती है और रोगों से बचाने में मदद करती है।

1. विटामिन ए की कमी से शरीर में फोड़े-फुंसी होते हैं

विटामिन ए एक शक्‍तिशाली एंटीऑक्‍सीडेंट तत्व है जो हमारे शरीर को हानिकारक प्रभावों से बचाने में मदद करता है। अगर हमारे शरीर में विटामिन ए पर्याप्त मात्रा में होगी तो हमारी त्वचा स्वस्थ रहेगी जिससे दाग-धब्बे फोड़े-फुंसी की समस्या नहीं होगी।

विटामिन ए हमारी त्वचा को हानिकारक संक्रमण से बचाने में मदद करता है साथ ही त्वचा की कोइशिकाओं को हाइड्रेट रखता है। इसलिए फोड़े-फुंसी की समस्या छुटकारा पाने के लिए हमारे शरीर में विटामिन ए की अच्छी मात्रा होनी चाहिए।

विटामिन ए के श्रोत – शरीर में फोड़े-फुंसी की समस्या को दूर करने के लिए हमें ऐसे आहार का सेवन करना चाहिए जिनमे विटामिन ए की अच्छी मात्रा हो। विटामिन ए के अच्छे स्रोत हैं गाजर, चुकंदर, शलजम, शकरकंद, मटर, टमाटर, ब्रोकली, कद्दू, साबुत अनाज, हरी पत्‍तेदार सब्‍जियां, अमरुद, तरबूत, पपीता, चीकू, पनीर आदि।

2. विटामिन ई की कमी से शरीर में फोड़े-फुंसी होते हैं

शरीर में फोड़े-फुंसी की समस्या दूर करने के लिए विटामिन ई काफी मददगार होता है। विटामिन ई वसा में आसानी से घुल जाता है और कोशिकाओं को मजबूत बनाकर त्वचा को स्वस्थ रखने में सहायता करता है। विटामिन ई त्वचा के साथ-साथ बालों की पोषण के लिए भी फायदेमंद होता है।

विटामिन ई में उन सभी पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाए रखने में मदद करते है। यह हमारे इम्युनिटी सिस्टम को बूस्ट करके शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ करता है।

विटामिन ई के श्रोत – विटामिन ई बाजार में सप्‍लीमेंट के रूप या कैप्सूल की गोली में मिलती है। इसके अलावा खाद्य पदार्थों से भी विटामिन ई की पूर्ति की की जा सकती है। बादाम, मूंगफली और अखरोट, गेहूं, मक्का, सोयाबीन, सूरजमुखी के बीज और हरी पत्तेदार सब्जियाँ जैसे पालक और ब्रोकोली में विटामिन ई की अच्छी मात्रा होती है।

3. विटामिन डी की कमी से शरीर में फोड़े-फुंसी होते हैं

शरीर को स्वस्थ के लिए कई विटामिन की जरूरत पड़ती होती है, विटामिन डी भी उन्हीं विटामिन में से एक है। विटामिन डी शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ता है और कई प्रकार की बीमारियों से दूर रखने में मदद करता हैं।

शरीर में विटामिन डी कमी होने पर हमारे शरीर की इम्यूनिटी कम होने लगती हैं, जिसकी वजह से हम जल्दी बीमार पड़ने लगते हैं। विटामिन डी की कमी से हमारे शरीर की हड्डी और दांतों में दर्द बना रहता है। साथ ही शरीर में फोड़े-फुंसी की समस्या भी हो सकती है।

विटामिन डी के श्रोत – विटामिन डी का सबसे बड़ा स्रोत धूप माना जाता है। सूरज के संपर्क में आने पर हमारे शरीर को विटामिन डी मिलती है जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा भी अन्य चीज़ों को अपने आहार में शामिल करके हम अपने शरीर में विटामिन डी की कमी को पूरा कर सकते हैं जैसे अंडा, संतरा, दूध, ओट्स, मशरूम, दही, अनाज,पालक, मीट, मछली।

4. विटामिन सी की कमी से शरीर में फोड़े-फुंसी होते हैं

विटामिन सी को एल-एस्‍कॉर्बिक अम्‍ल भी कहा जाता है। यह पानी में घुलने वाला विटामिन है जो रक्त वाहिकाओं द्वारा त्वचा तक प्रोटीन को पहुचाने में मदद करता है। विटामिन सी त्वचा को सूखे या रूखेपन से बचाता है और त्वचा की नमी को बरक़रार रखता है, जिससे त्वचा मुलायम और स्वस्थ रहती है।

विटामिन सी चेहरे की झुर्रियों को रोकने में सक्षम होता है और शरीर में फोड़े-फुंसी की समस्या और अन्य त्वचा संबंधी विकार को रोकने में मदद करता है। विटामिन सी एक प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट है जो कई प्रकार की समस्याओं में फायदेमंद माना जाता है।

विटामिन सी के श्रोत – विटामिन सी का मुख्य स्त्रोत खट्टे फलों को माना जाता है जैसे आंवला, संतरा, अंगूर, टमाटर, नींबू, बेर, अमरूद, सेब, कटहल, केला, चुकंदर, पालक, पुदीना आदि।

FAQs – शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं

शरीर में फोड़े होने के क्या कारण होते हैं?

फोड़े-फुंसी होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं जैसे बैक्टीरियल इन्फेक्शन, चोट लगना और विटामिन्स की कमी।

फोड़े-फुंसी की टेबलेट नाम क्या है?

फोड़े-फुंसी की टेबलेट नाम क्लेफ्ट (Cleft) 10Mg टेबलेट है।

शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं?

शरीर में फोड़े-फुंसी ये चार विटामिन्स (विटामिन ए, ई, डी और विटामिन सी) की कमी से होते है।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट शरीर में फोड़े-फुंसी किस विटामिन की कमी से होते हैं? जरुर पसंद आया होगा। अब आप जान गए हैं कि शरीर में मुख्य रूप से चार विटामिन्स की कमी से शरीर में फोड़े-फुंसी की समस्या हो सकती है। अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी है तो इसे और लोगो तक पहुचाने का प्रयास करें, सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।

अन्य पढ़ें –

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *