बिकासुल कैप्सूल खाने से पेशाब पीला क्यों होता है, ऐसी गलती भूलकर भी ना करें

बिकासुल कैप्सूल खाने से पेशाब पीला क्यों होता है – बिकासुल एक मल्टीविटामिन कैप्सूल है जो आपके सम्पूर्ण शारीरिक विकास और विभिन्न प्रकार के रोगों का उपचार करता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से एनीमिया के इलाज में किया जाता है। इसके अलावा शरीर में कमजोरी, थकान, मुंह के छालों, गले में खराश, नाखून, त्वचा और बालों के लिए फायदेमंद होता है।

अगर किसी व्यक्ति के शरीर में जरूरी पोषक तत्वों का अभाव है तो बिकासुल कैप्सूल जैसे मल्टीविटामिन्स दवाइयाँ लेने की सलाह दी जाती है। बिकासुल कैप्सूल का इस्तेमाल करने से शरीर में विटामिन्स और अन्य पोषक तत्वों की पूर्ति होती है।

बिकासुल कैप्सूल से जुड़े लोगो के मन में काफी सवाल चलते रहते हैं जैसे कि बिकासुल कैप्सूल खाने से पेशाब पीला क्यों होता है, बिकासुल कैप्सूल किस रोग में काम आता है,बिकासुल कैप्सूल किस काम में आता है आदि। इन सभी सवालों के जवाब पाने के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

बिकासुल कैप्सूल खाने से पेशाब पीला क्यों होता है
बिकासुल कैप्सूल खाने से पेशाब पीला क्यों होता है

बिकासुल कैप्सूल खाने से पेशाब पीला क्यों होता है – Bikasul Capsule Khane Se Peshab Pila Kyon Hota Hai

अगर बिकासुल लेने के बाद आपको पीले रंग का पेशाब आता है तो घबराने की जरूरत नहीं है। क्योंकि बिकासुल कैप्सूल में राइबोफ्लेविन यानि विटामिन बी2 मौजूद होता है जिस वजह से पेशाब का रंग पीला हो जाता है।

बिकासुल कैप्सूल को डॉक्टर की सलाह अनुसार ही लेना चाहिए। डॉक्टर व्यक्ति के लिंग, उम्र और स्वास्थ्य की स्थिति के अनुसार दवा लेने की सलाह देते है। अगर आपको बिकासुल कैप्सूल का सेवन करने से कोई समस्या होती है तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

बिकासुल कैप्सूल किस रोग में काम आता है – Bikasul Capsule Kis Rog Me Kaam Aata Hai

बिकासुल एक मल्टीविटामिन कैप्सूल है जिसमें विटामिन B कॉम्प्लेक्स और विटामिन C मुख्य रूप से मौजूद होता है। बिकासुल कैप्सूल लेने से शरीर में पोषण की कमी को दूर होती है साथ ही विभिन्न प्रकार के रोगों का उपचार किया जाता है।

यहाँ पर हम आपको बताने जा रहे हैं कि बिकासुल कैप्सूल किस रोग में काम आता है।

(1) एनीमिया उपचार में

अगर आप एनीमिया रोग से ग्रसित है तो बिकासुल कैप्सूल लेने से यह रोग दूर हो सकता हैं। एनीमिया रोग होने से शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की मात्रा कम होने लगती है।

बिकासुल कैप्सूल में फोलिक एसिड और विटामिन B12 मौजूद होते हैं जो शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करते है। जिससे एनीमिया की समस्या से राहत मिलता है।

(2) बालो के लिए

आजकल बहुत सारे लोग अपने झड़ते हुए बालों से परेशान रहते हैं। अगर किस व्यक्ति के बाल बहुत ज्यादा झड रहे हैं तो इसका जल्दी इलाज करवाना चाहिए, नहीं तो उस व्यक्ति को गंजा होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा।

अगर आप भी आपने झड़ते हुए बालों की समस्या से जूझ रहे हैं तो बिकासुल कैप्सूल का इस्तेमाल कर सकते हैं। बिकासुल कैप्सूल में विटामिन B कॉम्प्लेक्स और विटामिन C की भरपूर मात्रा मौजूद होती हैं जो आपके बालों की जड़ों को मजबूत बनाते हैं जिससे बाल झड़ना बंद हो जाते हैं।

(3) मुँह के छालों के लिए

कई लोग ऐसे होते हैं जिनके मुंह में अक्सर छाले पड़ जाते हैं। अगर आपके भी मुंह, मसूड़े या जीभ में छाले पड़ गए है तो बिकासुल कैप्सूल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

बिकासुल कैप्सूल में विटामिन बी की अच्छी मात्रा पाई जाती है जिसका सेवन करने से काफी सरलता पूर्वक मुंह मसूड़े और जीभ के छालों को ठीक किया जा सकता है। बिकासुल कैप्सूल को आप नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं लेकिन इसका सेवन करने से पहले आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

(4) इम्युनिटी बढ़ाने में

अगर हमारे शरीर के इम्युनिटी अच्छी है तो तमाम प्रकार के रोग दूर रहते हैं और हम जल्दी बीमार नहीं होते हैं। बिकासुल कैप्सूल का इस्तेमाल इम्युनिटी बूस्टर के रूप में किया जा सकता है।

बिकासुल कैप्सूल में विटामिन बी कॉम्प्लेक्स और विटामिन सी मौजूद होता है जो एंटीऑक्सिडेंट के रूप में करता है। और हमारे शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करता है।

(5) मुहांसों के लिए

चेहरे पर मुहांसे की समस्या से छुटकारा पाने के लिए भी बिकासुल कैप्सूल का सेवन कर सकते है। बिकासुल कैप्सूल में कुछ ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो आपके चेहरे की मुहांसों को ठीक करने में आपकी मदद कर सकते हैं।

इसके अलावा बिकासुल कैप्सूल में मौजूद विटामिन सी आपकी त्वचा को स्वस्थ, मुलायम और खूबसूरत बनाने में मदद करता है।

(6) गठिया रोग में

गठिया रोग होने से पीड़ित को असहनीय दर्द होता है। गठिया रोग होने का मुख्य कारण शरीर में कैल्शियम की कमी को माना जाता है। गठिया रोग से निजात पाने के लिए बिकासुल कैप्सूल का सेवन किया जा सकता है।

बिकासुल कैप्सूल में कैल्शियम की उच्च मात्रा पाई जाती है जो आपके शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करती है। जिससे गठिया रोग या अर्थराइटिस की समस्या से राहत मिलता है।

(7) कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में

शरीर में कोलेस्ट्रॉल का नियंत्रित रहना बहुत जरूरी होता है, नहीं तो कई प्रकार की शारीरिक समस्या होने लगती है। हार्ट का सबसे बड़ा दुश्मन बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल को माना जाता है। बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए बिकासुल कैप्सूल का सेवन किया जा सकता है।

बिकासुल कैप्सूल में विटामिन B12 की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जो आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित रखती है साथ ही ब्लड प्रेशर को भी कण्ट्रोल में रखता है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि बिकासुल कैप्सूल खाने से पेशाब पीला क्यों होता है। बिकासुल एक मल्टीविटामिन कैप्सूल होता है जिसका इस्तेमाल करने से सम्पूर्ण स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है। यह थकान, कमजोरी, कोलेस्ट्रॉल, गठिया रोग और मुहांसों को कम करने में आपकी मदद कर सकता है।

जब भी कोई व्यक्ति बिकासुल कैप्सूल का सेवन करता है तो उसके पेशाब का रंग पीला पड़ जाता है। लेकिन आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि बिकासुल कैप्सूल में विटामिन बी2 मौजूद होता है जिसके कारण पेशाब का रंग पीला हो जाता है।

डिस्क्लेमर – इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए यहाँ पर बताई गई किसी भी दवा या मान्यता को अमल करने से पहले डॉक्टर या सम्बंधित विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

5/5 - (1 vote)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *