माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है – सिर दर्द एक आम समस्या है जो कभी न कभी हर किसी को सामना जरूर करना पड़ता है। लेकिन सिर दर्द भी कई प्रकार के होते हैं। इसमें से एक माइग्रेन भी है। माइग्रेन होने से पीड़ित के सिर के आधे हिस्से में तेज दर्द होता है।

माइग्रेन की वजह से होने वाला दर्द कुछ मिनट से लेकर दिनों तक रह सकता है। इस दर्द के कारण व्यक्ति की पूरी दिनचर्या प्रभावित हो सकती है।

आजकल कई सारे लोगों को माइग्रेन के दर्द से गुजर रहे हैं। माइग्रेन होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं जिनमे से शरीर में विटामिन की कमी होना है। आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है और इसका इलाज कैसे किया जा सकता है।

माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है
माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है

माइग्रेन क्या है – What is Migraine in Hindi

माइग्रेन सिरदर्द का एक प्रकार होता है जिसकी वजह से पीड़ित के आधे सिर में दर्द होता है। माइग्रेन का दर्द आम सिरदर्द के मुकाबले बहुत तेज होता है। कभी-कभी यह दर्द इतना बढ़ जाता है कि सहन करना मुश्किल पड़ने लगता है और उल्टी, घबराहट, धुंधला दिखना, कंधे में जकड़न व जलन जैसी समस्याएं होने लगती है।

माइग्रेन एक न्यूरोलॉजिकल विकार है जो सिर के एक हिस्से से शुरू होकर दूसरी तरफ जा सकता है। माइग्रेन से पीड़ित व्यक्ति का सिरदर्द रह-रहकर दर्द करता है। ऐसा लगता है मानो कोई हथौड़े मार रहा हो। यह दर्द कुछ घंटों से लेकर कुछ दिन तक लगातार बना रहता है।

माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है – Migraine Kis Vitamin Ki Kami Se Hota Hai

विटामिन हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक होता है। विटामिन की कमी से हमारे शरीर को अनगिनत बीमारियाँ घेरने लगती हैं। अगर आपके शरीर में विटामिन की कमी है तो माइग्रेन होने की सम्भावना बढ़ जाती है। एक्सपर्ट के अनुसार विटामिन-बी2 और विटामिन-डी की कमी से माइग्रेन होने की आशंका बढ़ जाती है।

(1) विटामिन बी2

विटामिन बी2 को राइबोफ्लेविन (Riboflavin) के नाम से भी जाना जाता है। यह एक प्रकार का वाटर सॉल्युबल विटामिन होता है जो पानी में आसानी से घुल जाता है। विटामिन बी2 शरीर को स्वस्थ रखने और लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मदद है।

प्रत्येक व्यक्ति के शरीर में विटामिन बी 2 उचित मात्रा में मौजूद होना चाहिए। नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार पुरुषों को रोजाना 1.3 मिलीग्राम और महिलाओं को 1.1 मिलीग्राम विटामिन बी2 का सेवन करना चाहिए। विटामिन बी2 की कमी से आपको कई तरह की बीमारियाँ घ्रेरने लगती है जिसमे माइग्रेन भी शामिल है।

विटामिन बी2 के स्रोत – माइग्रेन से पीड़ित व्यक्ति को विटामिन बी 2 से भरपूर खाद्य पदार्थ का सेवन करना चाहिए। विटामिन b2 यूक्त आहार लेने से माइग्रेन से होने वाले दर्द को कम किया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं कि विटामिन बी 2 युक्त खाद्य पदार्थ कौन-कौन से हैं –

  • दूध
  • शतावरी
  • किशमिश
  • मटर
  • मशरूम
  • अजमोद
  • ओट्स (दलिया)
  • दही
  • बादाम
  • मक्खन
  • क्विनोआ
  • पालक
  • सेब
  • राजमा
  • ब्रेड
  • सूरजमुखी के बीज
  • टमाटर
  • चावल
  • अंडा
  • मछली
  • मीट
  • चिकन

(2) विटामिन डी

अगर आपके शरीर में विटामिन डी की कमी है तो आपको माइग्रेन के सिरदर्द और अन्य कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। विटामिन डी मस्तिष्क को स्वस्थ माइग्रेन के दर्द को कम करने में मदद करता है। विटामिन डी हमारे शरीर की हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत बनाता है साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता को मज़बूत करने में मदद है।

विटामिन डी का सेवन हर व्यक्ति को उसकी सेहत और उम्र के अनुसार करना चाहिए। नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार 0 से 12 महीने के बच्चों को 600 IU (इंटरनेशनल यूनिट) विटामिन डी की आवश्यकता पड़ती है। 1 से 71 वर्ष के लोगो को लगभग 600 आईयू (इंटरनेशनल यूनिट) विटामिन डी जरूरत होती है। 71 वर्ष से अधिक उम्र के लोगो को 800 आईयू (इंटरनेशनल यूनिट) विटामिन डी की जरूरत होती है।

विटामिन डी के स्रोत – सूर्य के संपर्क में बैठने से हमारे शरीर को धूप लगती है और शरीर को विटामिन डी प्राप्त होता है। इसके अलावा विटामिन डी युक्त आहार का सेवन करने से भी शरीर में विटामिन डी की कमी को पूरा किया जा सकता है। आप निम्नलिखित चीज़ों को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं –

  • अंडा
  • संतरा
  • दूध
  • मशरूम
  • दही
  • अनाज
  • मीट
  • मछली
  • ओटमील

माइग्रेन के लक्षण – Symptoms of Migraine

आमतौर सिर-दर्द की समस्या सभी को कभी न कभी जरूर होती है। लेकिन माइग्रेन की वजह से होने वाला सिरदर्द इतना तेज होता है कि इसको सहन करना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए समय रहते माइग्रेन की पहचान करके इसका इलाज करना चाहिए। तो चलिए जानते हैं कि माइग्रेन होने पर कौन-कौन से लक्षण महसूस होते हैं।

  • सिर के एक हिस्से में तेज दर्द होना, मानो कोई हथौड़े से वार कर रहा हो।
  • कभी-कभी यह दर्द जबड़े से लेकर आंख और कंधे तक आ जाता है।
  • इस दर्द के कारण पीड़ित को धुंधला दिखाई देता है।
  • उल्टी या फिर जी मिचलाना।
  • बार बार प्यास लगना।
  • गुस्सा आना और चिड़चिड़ापन होना।
  • चक्कर आना और लो ब्लड प्रेशर की समस्या।
  • शोर और तेज रौशनी से दर्द का बढ़ना।

FAQs – माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है

माइग्रेन में कौन सा फल खाना चाहिए?

माइग्रेन के मरीजों को इन फलों का सेवन करना चाहिए जैसे तरबूज, केला, सेब, स्ट्रॉबेरी और एवोकाडो।

माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है?

विटामिन बी 2 और विटामिन डी की कमी से माइग्रेन की समस्या हो सकती है।

माइग्रेन के मरीजों को क्या नहीं खाना चाहिए?

माइग्रेन के मरीजों को खाने में कुछ चीजों का परहेज करना चाहिए जैसे चाय-कॉफी जैसी कैफीन-युक्त चीजों का परहेज, अधिक नमक वाले खाद्य पदार्थ, डार्क चॉकलेट और शराब का सेवन न करें।

माइग्रेन का पता कैसे चलता है?

माइग्रेन होने पर पीड़ित के सिर के एक हिस्से में तेज दर्द होता है।

माइग्रेन का दर्द कहाँ होता है?

माइग्रेन का दर्द पीड़ित व्यक्ति के आधे सिर में होता है। और कई बार यह दर्द पूरे सिर में भी हो सकता है।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है? जरुर पसंद आया होगा। अब आप जान गए हैं कि अगर आपके शरीर में विटामिन बी 2 और विटामिन डी की कमी है तो आपको माइग्रेन की समस्या हो सकती है। अगर आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी वास्तव में अच्छी लगी हो तो कृपया इसे शेयर करना बिल्कुल भी ना भूले और इस पोस्ट से जुड़े किसी प्रकार की अपनी प्रतिक्रिया देने के लिए कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

अन्य पढ़ें –

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *