Septilin Tablet Uses in Hindi, 100% कारगर है ये दवा

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Septilin Tablet Uses in Hindi – सेप्टीलिन टैबलेट एक आयुर्वेदिक दवा है जिसका इस्तेमाल कई तरह की बीमारियों को ठीक करने में किया जाता है। इस दवा का इस्तेमाल त्वचा संक्रमण, वायरल संक्रमण, गले में दर्द, और श्वसन पथ संक्रमण का इलाज करने में किया जाता है।

इसके अलावा शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाने में मदद करता है। जिससे कि हमारे शरीर को कई तरह की बिमारियों से लड़ने की ताकत मिलती है। अगर आप भी इस टेबलेट का सेवन करना चाहते हैं तो खाने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे कि सेप्टीलिन टेबलेट क्या है, Septilin Tablet Uses in Hindi, इसकी खुराक, कीमत, साइड इफ़ेक्ट और यह दवा कौन-कौन सी बिमारियों का इलाज करने में कारगर होती है। तो इस महत्वपूर्ण जानकारी को पाने के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

Septilin Tablet Uses in Hindi
Septilin Tablet Uses in Hindi

सेप्टीलिन टैबलेट क्या है – What is Septilin Tablet in Hindi

सेप्टीलिन टैबलेट हिमालया कंपनी द्वारा निर्मित एक आयुर्वेदिक दवा है। इस टैबलेट में गिलोय, मंजिष्ठा, मुलेठी, गुग्गुल, आंवला जैसे प्राकृतिक तत्व मौजूद होते हैं। जो एक साथ के कई सारे संक्रमणों ठीक करने में मदद करते है।

सेप्टीलिन टैबलेट और सिरप दोनों रूप में मार्किट में उपलब्ध है। डॉक्टर आपके स्वास्थ्य और स्थिति के अनुसार आपको खाने की सलाह देता है।

सेप्टीलिन टैबलेट की कीमत – Septilin Tablet Price

हिमालया सेप्टीलिन टेबलेट की कीमत लगभग 150 रूपये होती है। जिसमें 60 टैबलेट होती हैं। Septilin Tablet को आप अपने नजदीकी किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।

यहाँ पर हम Amozon शौपिंग वेबसाइट का लिंक शेयर कर रहे हैं, जहाँ से आप घर बैठे ऑनलाइन आर्डर कर सकते हैं।

Septilin Tablet

Himalaya Septilin Tablet/ हिमालया सेप्टीलिन टैबलेट

  • 100% आयुर्वेदिक दवा
  • श्वसन तंत्र के संक्रमण को दूर करने में
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में

सेप्टीलिन टैबलेट के उपयोग – Septilin Tablet Uses in Hindi

सेप्टीलिन टैबलेट एक एंटीबायोटिक और प्रभावशाली दवा है जिसका उपयोग करने से आपके स्वास्थ्य को निरोगी बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

Septilin Tablet का उपयोग निम्नलिखित उद्देश्यों को पूरा करने के लिए किया जाता है।

(1) रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में

जिन लोगो के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होती है उन पर छोटी-मोटी बीमारियों का असर नहीं पड़ता है। अगर आपके शरीर की इम्युनिटी या रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी नहीं है तो इसे बढ़ाने के लिए Septilin Tablet का उपयोग कर सकते है।

सेप्टिलिन में मौजूद प्राकृतिक तत्व आपके शरीर की इम्युनिटी को बूस्ट करने में मदद कर सकते हैं।

(2) एंटीबायोटिक के रूप में

सेप्टीलिन टैबलेट का इस्तेमाल एंटीबायोटिक के रूप में किया जा सकता है। सेप्टिलीन दवा में मौजूद एंटीबायोटिक गुण आपके शरीर पर लगी चोंट और घाव को जल्दी भरने में मदद करते हैं।

इसके अलावा यह दवा आपकी त्वचा के डेड सेल्स को ख़त्म करके त्वचा से जुड़े विकारों को दूर करने में मदद करती है।

(3) सूजन को कम करने में

सेप्टिलिन टैबलेट में एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। जो शरीर के किसी भी अंग में आई सूजन को कम करने में मदद करती है।

इसके अलावा त्वचा पर मौजूद घाव, फफोले, फोड़े, फुंसी आदि को ठीक करने में भी मदद करती है।

(4) एंटी इन्फेक्शन के रूप में

सेप्टिलिन टैबलेट एक एंटी इन्फेक्शन के रूप में भी काम करता है। यह श्वास नली के इंफेक्शन को सही करने के साथ-साथ आंख, कान, गुर्दे आदि के इन्फेक्शन को ठीक करने में मदद करता है।

इसके अलवा यह वाइट ब्लड सेल्स को मजबूत बनाता है, जिससे शरीर में मौजूद अन्य सभी प्रकार के हानिकारक बैक्टीरिया खत्म हो जाते है।

(5) बुखार के लिए

हिमालया सेप्टिलिन टैबलेट में एंटी-वायरल और एंटी-पीयरेटिक गुण मौजूद जाते हैं। एंटी-पीयरेटिक गुण मौजूद होने से यह दवा बुखार के कारण बढ़े शरीर के तापमान को सामान्य करने में मदद करता हैं।

इसके अलावा बुखार के संक्रमण को दूर करने में भी मदद करता है।

सेप्टीलिन टैबलेट की खुराक – Dosage of Septilin Tablet In Hindi

सेप्टीलिन टैबलेट को आप रोजाना खाना खाने के बाद सेवन कर सकते हैं। इसकी एक- एक टैबलेट को सुबह और शाम को पानी के साथ सेवन कर सकते हैं।

सेप्टीलिन टैबलेट का सेवन अलग-अलग प्रकार के स्वास्थ्य संक्रमण को दूर करने के लिए किया जाता है। इसलिए सेवन करने से पहले आपको किसी डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

डॉक्टर आपकी उम्र, लिंग और स्वास्थ्य की स्थिति के आधार पर दवा लेने की सही खुराक और दिशानिर्देश देगा। Septilin Tablet की खुराक प्रत्येक व्यक्ति में अलग-अलग हो सकती है, इसलिए डॉक्टर की सलाह लेना बहुत आवश्यक है।

सेप्टीलिन टैबलेट के नुकसान – Side Effects of Septilin Tablet in Hindi

सेप्टीलिन टैबलेट एक आयुर्वेदिक दवा है जिसके कोई साइड-इफ़ेक्ट नहीं होते हैं। हालाँकि गलत तरीके से करने से कुछ सामान्य साइड इफ़ेक्ट देखने को मिल सकते है।

यहाँ पर हम आपको बताने जा रहे हैं कि सेप्टीलिन टैबलेट का सेवन करने से कौन-कौन से नुकसान हो सकते हैं।

  • सेप्टीलिन टैबलेट का सेवन करने से कुछ लोगो को उच्च रक्तचाप की समस्या हो सकती है।
  • इस दवा का ओवेडोज लेने से पेट में दर्द और दस्त की समस्या हो सकती है।
  • कभी-कभी किसी महिला को अगर यह दवा सूट नहीं करती तो उसे अनियमित माहवारी की समस्या हो सकती है।
  • इस टेबलेट के सेवन से कुछ लोगो के त्वचा के चकत्ते और एलर्जी की समस्या हो सकती है, अगर यह समस्या आपके साथ भी हो रही है तो आपको तुरंत डॉक्टर की परामर्श लेना चाहिए।

सेप्टीलिन टैबलेट से जुड़ी सावधानियां – Precautions of Septilin Tablet in Hindi

हिमालया सेप्टीलिन टैबलेट को बिना डॉक्टर की सलाह के सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप सेप्टीलिन टैबलेट का सेवन कर रहे हैं तो आपको कुछ सावधानियाँ बरतनी चाहिए।

  • अगर कोई व्यक्ति वर्तमान समय में किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित है तो उसे इस दवा का सेवन करने से बचना चाहिए।
  • अगर कोई महिला गर्भवती है तो उसे सेप्टीलिन टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • स्तनपान करने वाली महिलाओं को Septilin Tablet का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।
  • इस दवा में पहले से ही लिखे गए दिशा-निर्देशों को जरूर पढ़ें।
  • शराब पीने के बाद सेप्टीलिन टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि अल्कोहल के साथ मिलकर विपरीत प्रभाव डाल सकती है।
  • इस दवा को खरीदते समय इसकी एक्सपायरी डेट जरूर देखें।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि हिमालया सेप्टीलिन टैबलेट का उपयोग कैसे करें (Septilin Tablet Uses in Hindi)। सेप्टीलिन टैबलेट एक आयुर्वेदिक दवा है जिसका इस्तेमाल शरीर के कई प्रकार के संक्रमणों को ठीक करने के लिए किया जाता है।

सेप्टीलिन टैबलेट का उपयोग श्वसन तंत्र के संक्रमण, गले में सूजन या संक्रमण, संक्रमित बुखार, गुर्दे में इंफेक्शन, मूत्र पथ के संक्रमण, सर्दी, खाँसी, त्वचा संक्रमण जैसे कई प्रकार के इलाज में प्रयोग किया जाता है। यह दवा शरीर के विभिन्न अंगों में आई सूजन को भी कम करने में मदद करती है।

डिस्क्लेमर – इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए यहाँ पर बताई गई किसी भी दवा या मान्यता को अमल करने से पहले डॉक्टर या सम्बंधित विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

इन्हें भी पढ़े –

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *