प्रेगनेंसी में पेट का कम निकलना, ऐसी गलती भूलकर भी ना करें

प्रेगनेंसी में पेट का कम निकलना – शादी के बाद माँ बनना हर महिला के लिए एक बड़ा अनोखा पल होता है। परिवार के सभी सदस्य इस नए मेहमान के आने का बेसब्री से इन्तजार करते है।

प्रेगनेंसी के दौरान महिला के शरीर में कई तरह के बदलाव देखने को मिलते हैं। उनमे से सबसे बड़ा बदलाव यह होता है कि जैसे-जैसे प्रेगेनेंसी का महीना बढ़ता जाता है महिला का पेट भी बाहर निकलने लगता है। लेकिन कुछ महिलायें ऐसी भी होती हैं जिनका पेट प्रेगनेंसी के आख़री महीने में भी बहुत कम दिखाई देता है।

ऐसे में कई महिला सोचती हैं कि मेरी और मेरी सहेली का प्रेगनेंसी का बराबर महीना चल रहा है लेकिन मेरा पेट उससे कम क्यों है। ऐसा भी माना जाता है कि पेट कम निकलने का मतलब बच्चे की ग्रोथ कम होना यानी बच्चे का वजन नहीं बढ़ रहा है।

आज के इस पोस्ट में हम आपको विस्तार से बताएँगे कि प्रेगनेंसी में पेट का कम निकलना या प्रेगनेंसी में पेट का ज्यादा निकलना, इसके पीछे के क्या-क्या कारण होते है। तो इस महत्वपूर्ण जानकारी को पाने के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

प्रेगनेंसी में पेट का कम निकलना
प्रेगनेंसी में पेट का कम निकलना

प्रेगनेंसी में पेट का कम निकलना – Pregnancy Me Pet Kam Nikalna

आमतौर पर प्रेगनेंसी के पहले तीन महीने तक पेट में कोई बदलाव देखने को नहीं मिलता है यानी पेट देखकर किसी को पता तक नहीं चलेगा कि आप प्रेगनेंट हैं। उसके बाद बच्चेदानी धीरे-धीरे ऊपर आने लगती है और प्रेगेनेंसी की आधी स्टेज तक बच्चेदानी नाभी तक पहुच जाती है।

लेकिन इस स्टेज में भी जरूरी नहीं है कि सभी महिलाओं का पेट अधिक निकला हुआ दिखाई दे। कई महिलायें ऐसी होती हैं जो प्रेगेनेंसी के दौरान अपनी खुराक को बढ़ा देती हैं वो सोचती हैं कि उनके अब दो लोगो का खाना जरूरी है। और वो अधिक मात्रा में घी और अन्य फैटी फूड्स लेने लगती हैं, जिसके चलते उनके पेट के अन्दर फैट जमा होने लगता है और उनका वजन भी तेजी से बढ़ने लगता है।

प्रेगनेंसी के दौरान एक से डेढ़ किलोग्राम वजन बढ़ना सामान्य है। अगर इसके अधिक वजन बढ़ रहा है तो इसका मतलब आपके पेट में फैट जमा हो रहा है। पेट में अधिक फैट जमा होने से भी पेट अधिक बढ़ा हुआ दिखाई देता है।

अगर आपका पेट पहले से ही निकला हुआ था और प्रेगनेंसी के दौरान आपने और वजन बढ़ा लिया है तो आपका पेट अधिक निकला हुआ दिखाई देगा। अगर आप प्रेगेनेंसी के दौरान योगा व्यायाम करते हैं तो आपकी बॉडी फिट रहेगी और पेट में अतिरिक्त चर्बी नहीं रहेगी जिसके चलते आपका पेट कम निकला हुआ दिखेगा।

आमतौर पर पहली प्रेगनेंसी के दौरान महिला का पेट कम निकलता है। क्योंकि पेट की मसल्स टाइट रहती हैं। वहीँ दूसरी और तीसरी प्रेगेनेंसी के दौरान महिला का पेट अधिक निकलता है क्योंकि पेट की मसल्स ढीली पड़ जाती हैं। इसके अलावा अगर बच्चे के आसपास का तरल पानी की अधिक मात्रा है तो पेट बड़ा दिखता है।

एक तथ्य और भी माना जाता है कि अगर किसी महिला की हाईट अधिक है तो प्रेगेनेंसी में उसका पेट कम दिखाई देगा। वहीँ अगर आपकी हाईट कम है तो आपका पेट अधिक बड़ा दिखाई देगा। तो यहाँ पर प्रत्येक महिला का पेट प्रेगनेंसी में निकलने के पीछे का कारण अलग-अलग हो सकता है।

अगर सोनोग्राफी में आपके बच्चे की ग्रोथ अच्छी दिख रही है और उसका वजन भी सही है तो आपकी प्रेगेनेंसी अच्छी है फिर चाहे आपका पेट कम दिखाई दे या ज्यादा दिखाई दे। आपको पेट का आकार देखकर बच्चे की ग्रोथ से तुलना नहीं करनी चाहिए। कि प्रेगनेंसी में पेट बड़ा है तो बच्चे की ग्रोथ अच्छी है और पेट कम है तो बच्चा स्वस्थ नहीं है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि प्रेगनेंसी में पेट का कम निकलना इसके पीछे के क्या-क्या कारण हो सकते हैं। जब कोई महिला गर्भवती होती है तो पहले से तीन महीने तक पेट बाहर नहीं निकलता है, लेकिन उसके बाद जैसे-जैसे महीने बढ़ते जाते हैं धीरे-धीरे पेट फूलने लगता है।

प्रेगनेंसी के दौरान किसी महिला का पेट कम निकलता है तो किसी महिला का ज्यादा निकलता है। इसके पीछे की कई वजह हो सकती है जैसे अगर कोई महिला पहली बार मां बन रही हैं, उसका पेट कम निकलता है क्योंकि उसके पेट की मांसपेशियां टाइट होती है। लेकिन दूसरी और तीसरी प्रेगेनेंसी के दौरान पेट जल्द ही बड़ा दिखने लगता है।

नोट – इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए यहाँ पर बताई गई किसी भी दवा या मान्यता को अमल करने से पहले डॉक्टर या सम्बंधित विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

इन्हें भी पढ़ें–

5/5 - (1 vote)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *