पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ और Himalaya, 2 घंटे तक डटे रहेंगे

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा – शादी के बाद हर कोई चाहता है कि उसे माता-पिता बनने का सुख मिले। बच्चा पैदा करने के लिए शुक्राणु का महत्वपूर्ण योगदान रहता है। लेकिन वीर्य में शुक्राणु की संख्या कम होने या शुक्राणु की गुणवत्ता ख़राब होने के कारण उनकी माता-पिता बनने की ख्वाहिश अधूरी रह जाती है।

अगर आपके वीर्य में शुक्राणु की संख्या कम है तो चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है। क्योंकि आज के इस पोस्ट में हम आपको पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ और Himalaya के बारे में बताएँगे। जिनका इस्तेमाल करके माता-पिता बनने का सपना पूरा कर सकते हैं।

पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ, Himalaya
पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ, Himalaya

पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा – Patanjali Me Shukranu Badhane Ki Dawa

हमारे देश की पतंजलि कंपनी सभी प्रकार की आयुर्वेदिक दवाइयाँ निर्मित करती हैं। विगत कुछ वर्षों में पतंजलि कंपनी द्वारा निर्मित प्रोडक्ट्स का डिमांड भारत के साथ-साथ विदेशों में भी बढ़ गया है। आमतौर पर, पतंजलि द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक दवाइयों का सेवन 2 -3 महीने करने की सलाह दी जाती है।

अगर आप पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा का सेवन करते है तो 2-3 हफ्तों में ही इसका असर दिखाना शुरू हो जाएगा। लेकिन बेहतर परिणाम पाने के लिए आपको पतंजलि दवाइयों का सेवन लगभग 2 से 3 महीनों तक रोजाना करना चाहिए।

यहाँ पर हम कुछ पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा के बारे में बता रहे हैं। अगर आपको दवाई का सेवन करने के बारे कुछ दुविधा है या तरीकों के बारे में जानना है तो आप किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक या डॉक्टर की सलाह लेकर इन दवाइयों का सेवन कर सकते हैं।

तो चलिए जानते हैं कि पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा कौन-कौन सी है। जिनका सेवन करने से शुक्राणुओं की संख्या में बढ़ोत्तरी देखने को मिलती है।

(1) पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल – Patanjali Ashvashila Capsule

पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल को अश्वगंधा और शिलाजीत से तैयार किया गया है। पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा के रूप में पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल का इस्तेमाल करना पुरुषों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है।

इस दवा का सेवन करने से शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ शीघ्रपतन, स्तंभन दोष, खड़ा ना होना जैसी अन्य समस्याओं का निवारण करने में भी कारगर माना जाता है। पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल को दिन में दो बार खाना खाने के बाद दूध या पानी के साथ सेवन कर सकते हैं।

(2) पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल – Patanjali Shilajeet Capsule

शिलाजीत बहुत ही ताकतवर और असरदार जड़ी बूटियां होती हैं जिनका सेवन शारीरिक कमजोरी को दूर होती है साथ ही शुक्राणु बढ़ाने में असरदार माना जाता है। पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल पतंजलि द्वारा निर्मित एक आयुर्वेदिक दवा है जिसका इस्तेमाल शुक्राणु बढ़ाने के लिए किया जा सकता है।

शिलाजीत का नियमित रूप से सेवन करने से पुरुषों के शरीर में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में मदद मिलती है। और लम्बे समय तक बिस्तर में अपने महिला साथी के साथ टिके रहते हैं। शिलाजीत कैप्सूल को आप खाना खाने के बाद दूध के साथ सेवन कर सकते हैं।

(3) पतंजलि मूसली पाक – Patanjali Moosli Pak

पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा – पतंजलि मूसली पाक का सेवन कर सकते हैं। पतंजलि मूसली पाक एक पावर बूस्टर की तरह काम करता है जो पुरुषों की शरीरिक दुर्बलता को दूर करके शुक्राणु बढ़ाने में मदद करता है।

पतंजलि मूसली पाक में सोंठ, पीपली, अश्वगंधा, सफेद मूसली, गोखरू, बड़ी इलायची जैसी कई प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियाँ मिश्रित रहती है। नियमित रूप से पतंजलि मूसली पाक का सेवन करने से पुरुषों के शरीर में शुक्राणुओं की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिलती है।

(4) पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल – Patanjali Ashwagandha Capsule

अश्वगंधा बहुत ही असरदार और ताकतवर जड़ी बूटी होती है जिसका इस्तेमाल प्राचीन काल से होता आ रहा है। अश्वगंधा में कई प्रकार के औषधीय गुण मौजूद होते हैं। जो कई प्रकार की की स्वास्थ संबंधी समस्याओं को दूर करने में मदद करता हैं।

अश्वगंधा कैप्सूल का सेवन करने से पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की लेवल भी नियंत्रित होती है और शुक्राणु की संख्या में बढ़ोत्तरी होती है। अश्वगंधा कैप्सूल को आप खाना खाने के बाद दूध के साथ सेवन कर सकते हैं।

(5) पतंजलि दिव्य यौवनामृत वटी – Patanjali Divya Youvnamrit Vati

पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा – पतंजलि दिव्य यौवनामृत वटी का सेवन कर सकते हैं। पतंजलि दिव्य यौवनामृत वटी में स्वर्ण भस्म, जायफल, जावित्री, शुद्ध कुचला, अश्वगंधा, शतावर, सफेद मूसली, अकरकरा जैसी अन्य कई प्रकार की प्राकृतिक जड़ी बूटियाँ शामिल रहती है। जो पुरुषों में शुक्राणु की संख्या बढ़ाने और वीर्य की गुणवत्ता को बेहतर करने में मदद करती हैं।

पतंजलि दिव्य यौवनामृत वटी पतंजलि द्वारा बनाई गई आयुर्वेदिक दवा है। जिसका सेवन करने से पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का लेवल नियंत्रित करता है जिससे शुक्राणुओं की संख्या में बढ़ोत्तरी देखने को मिलती हैं।

शुक्राणु बढ़ाने की दवा Himalaya – Shukranu Badhane Ki Dawa Himalaya

हिमालय एक बेहतरीन आयुर्वेदिक ब्रांड हैं जो विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक दवाइयों का निर्माण करता है। शुक्राणु बढ़ाने के लिए भी Himalaya की दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर आपको पतंजलि कंपनी के प्रोडक्ट पसंद नहीं है तो Himalaya आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

यहाँ पर हम कुछ शुक्राणु बढ़ाने की दवा Himalaya के बारे में बता रहे हैं। जिनका इस्तेमाल करके शुक्राणु बढ़ा सकते हैं और अपनी वैवाहिक जीवन को आनंदमय बना सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि शुक्राणु बढ़ाने की दवा Himalaya कौन-कौन सी है।

(1) हिमालय स्पीमन टैबलेट – Himalaya Speman Tablet

शुक्राणु बढ़ाने की दवा Himalaya – स्पीमन टैबलेट का इस्तेमाल किया जा सकता है। इस दवा को बनाने में कौच के बीज, कोकिलाक्षा ,गोखरू और अन्य कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को मिलाकर तैयार की गई है।

हिमालय स्पीमन टैबलेट का नियमित रूप से सेवन करने शरीर में शुक्राणु की संख्या में बढ़ोतरी होने लगती है। इस दवा की एक एक टेबलेट को सुबह और शाम गुनगुने पानी के साथ सेवन कर सकते हैं।

(2) हिमालय कॉन्फिडो टेबलेट – Himalaya Confido Tablet

शुक्राणुओं की कमी का इलाज करने के लिए हिमालय कॉन्फिडो टेबलेट एक अच्छी दवा मानी जाती है। इस दवा का का सेवन करने से पुरुषों में बांझपन, नपुंसकता, और शुक्राणु की कमी को दूर किया जा सकता है।

हिमालय कॉन्फिडो टेबलेट एक आयुर्वैदिक दवा है। वैसे तो ये दवा खरीदने के लिए आपको किसी भी तरह की डॉक्टर के पर्चे की आवश्यकता नहीं पड़ती है लेकिन हम आपको सलाह देंगे कि किसी भी दवाई का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ – Shukranu Badhane Ki Dawa

पुरुषों में शुक्राणुओं की कमी के कारण गर्भाधारण करने में कठिनाई आती है। आमतौर पर एक पुरुष के वीर्य में 15 मिलियन शुक्राणु प्रति एम.एल होते हैं। अगर पुरुष के वीर्य में 15 मिलियन प्रति एम.एल से कम शुक्राणु पाए जाते हैं तो उसे लो स्पर्म काउंट माना जाता है।

लो स्पर्म काउंट होने की वजह से पुरुष फीमेल एग को फर्टिलाइज नहीं कर पाते हैं और बच्चा पैदा करने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। पुरुषों में शुक्राणु की संख्या कम होना या बांझपन को नपुंसकता भी कहा जाता है।

यहाँ पर हम कुछ शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ के बारे में बता रहे हैं। जिनका इस्तेमाल करके शुक्राणु बढ़ा सकते हैं और अपने वैवाहिक जीवन में खड़ी समस्या को दूर कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ कौन-कौन सी है।

(1) वीर्य शोधन वटी – Virya Shodhan Vati

शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ वीर्य शोधन वटी का इस्तेमाल किया जा सकता है। वीर्य शोधन वटी एक आयुर्वेदिक दवा का जिसका इस्तेमाल करने से शुक्राणु बढ़ाने में आपकी मदद करती है साथ ही वीर्य की गुणवत्ता बढ़ाने में मदद करती है।

वीर्य शोधन वटी टेबलेट के रूप में आती है जिसकी एक पत्ते की कीमत 232 रूपये है जिसमे 60 टेबलेट रहती है। यह दवाई आपको कही पर मेडिकल स्टोर में मिल जायेगी, इसके अलावा आप इस ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।

(2) शुक्रमात्रिका वटी – Shukramatrika Vati

शुक्रमात्रिका वटी एक आयुर्वेदिक दवा है जिसे कई प्रकार की प्राकृतिक जड़ी बूटियों को मिलाकर बनाया गया है। शुक्राणुओं की गुणवत्ता सुधारने और शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ के रूप में वीर्य शोधन वटी का इस्तेमाल किया जा सकता है।

इस दवा को आप खाना खाने के बाद सुबह और शाम नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं। इसकी मदद से आपके शरीर में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ोत्तरी होने में मदद मिलेगी।

(3) बैधनाथ मूसली पाक – Baidyanath Musli Pak

बैधनाथ कंपनी द्वारा निर्मित शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ मूसली पाक का इस्तेमाल किया जा सकता है। इस दवा का सेवन करने से पुरुषों में शीघ्रपतन, धातु रोग, नपुंसकता, स्वप्नदोष को दूर करके वीर्य को शुद्ध और गाढा करके, शुक्राणुओं को बढाने का कार्य करती हैं।

ऐसे पुरुष जो शुक्राणु की कमी से पीड़ित हैं उन्हें बैधनाथ मूसली पाक का सेवन करना चाहिए। इस दवा का नियमित रूप से सेवन करने आपके शरीर में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ोत्तरी होने में मदद मिलेगी।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ और Himalaya में कौन-कौन सी है। आयुर्वेद में लगभग सभी प्रकार के रोगों के ठीक करने के लिए दवाइयाँ बनाई गई है। शुक्राणु बढ़ाने के लिए भी आप आयुर्वेदिक दवाइयों का सेवन कर सकते हैं। इस पोस्ट में हमने पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा, बैद्यनाथ और Himalaya की दवा के बारे में बताया है जिसका इस्तेमाल करके शरीर में शुक्राणु की कमी को दूर कर सकते हैं।

नोट – इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए यहाँ पर बताई गई किसी भी दवा या मान्यता को अमल करने से पहले डॉक्टर या सम्बंधित विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

इन्हें भी पढ़ें–

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

2 Comments

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *