ढीलापन की दवा पतंजलि, 2 घंटे तक खड़ा रहेगा

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

ढीलापन की दवा पतंजलि – हर पुरुष की इच्छा होती है कि शारीरिक सम्बन्ध के दौरान उसकी महिला साथी को चरम-सुख का मिले। लेकिन बहुत सारे पुरुष ऐसे होते हैं जो अपने पार्टनर को संतुष्ट नहीं कर पाते हैं और वो जल्दी डिस्चार्ज हो जाते है।

शारीरक सम्बन्ध के दौरान अगर कोई पुरुष बिस्तर में अच्छा प्रदर्शन नहीं करता है तो वैवाहिक जीवन में पति-पत्नी के रिश्ते बिगड़ने लगते हैं। कई बार हालात इतने बिगड़ जाते हैं कि दोनों के बीच तलाक तक की नौबत आ जाती है।

अगर आप भी शीघ्रस्खलन, ढीलापन, नपुसंकता जैसी समस्या से जूझ रहें हैं तो तो चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं हैं। क्योंकि आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे कि ढीलापन की दवा पतंजलि में कौन-कौन सी है। जिसकी मदद से आप खोई हुई ताकत दुबारा ला सकते हैं।

ढीलापन की दवा पतंजलि
ढीलापन की दवा पतंजलि

ढीलापन की दवा पतंजलि – Dhilapan Ki Dava Patanjali

शारीरिक सम्बन्ध के दौरान पुरुषों का औजार खड़ा और टाइट होना चाहिए। अगर आपके औजार में ढीलापन रहता है तो आपके पार्टनर को पूर्ण संतुष्टि नहीं मिल पायेगी। आज के समय में ढीलापन को दूर करने के लिए बाजार में कई बहुत सारी दवाइयां उपलब्ध हैं।

हमारे देश की पतंजलि भी एक ऐसा ब्रांड है, जो सभी प्रकार की आयुर्वेदिक दवाइयाँ बनाती है। ढीलापन को दूर करने के लिए आप पतंजलि की आयुर्वेदिक दवाइयों का सेवन कर सकते हैं। आयुर्वेदिक दवाइयों की एक ख़ास बात होती है कि इनके कोई नुकसान नहीं होते हैं।

यहाँ पर हम आपको कुछ ढीलापन की दवा पतंजलि के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनका इस्तेमाल करके आप अपने औजार का ढीलापन को दूर करके, सख्त और टाइट कर सकते हैं।

तो चलिए जानते हैं कि ढीलापन की दवा पतंजलि की दवा कौन-कौन सी हैं।

(1) पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल – Patanjali Shilajeet Capsule

ढीलापन की दवा पतंजलि में शिलाजीत कैप्सूल का सेवन किया जा सकता है। शिलाजीत का इस्तेमाल लंबे समय से पुरुषों में शारीरिक सम्बन्ध से जुड़ी समस्याओं का इलाज करने में किया जाता रहा है। पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल एक आयुर्वेदिक दवा है जिसका इस्तेमाल करने से पुरुषों में ढीलापन की समस्या दूर हो जाती है।

पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल को आप दिन में और रात को खाने के बाद सेवन कर सकते हैं। इसकी एक-एक कैप्सूल को सुबह-शाम दूध या पानी के साथ सेवन कर सकते हैं।

पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल
पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल

(2) पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल – Patanjali Ashwagandha Capsule

अश्वगंधा का इस्तेमाल प्राचीन काल से ही पुरुषों में शारीरिक सम्बन्ध से संबंधित समस्याओं का निवारण करने के लिए चलता आ रहा है। ढीलापन की दवा पतंजलि के रूप में पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल का इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसके लिए पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल की एक-एक गोली बह और रात को खाने के बाद सेवन कर सकते हैं। अगर आप पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण का सेवन कर रहे हैं तो 4 – 5 ग्राम अश्वगंधा चूर्ण का सेवन दूध के साथ कर सकते हैं।

पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल
पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल

(3) पतंजलि यौवन चूर्ण – Patanjali Youvan Churna

जैसा कि नाम से ही प्रतीत होता है कि यह पतंजलि द्वारा निर्मित ढीलापन की एक बेहतरीन दवा है। पतंजलि यौवन चूर्ण पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक दवाई है जिसका का सेवन करने से पुरुषों में ढीलापन की समस्या दूर होती है। साथ ही बिस्तर में अपने पार्टनर के साथ अच्छा प्रदर्शन करते है।

अगर आप शादीशुदा है और अपने पार्टनर के संतुष्ट नहीं कर पाते हैं तो आपको एक बार पतंजलि यौवन चूर्ण का इस्तेमाल करके जरूर देखना चाहिए। इस चूर्ण का सेवन करने से पुरुषों में शीघ्रपतन, ढीलापन, नपुसंकता, कामेच्छा की कमी, वीर्य की गुणवत्ता में कमी, खड़ा ना होना जैसी समस्याएं दूर हो जाती है।

पतंजलि यौवन चूर्ण
पतंजलि यौवन चूर्ण

(4) पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल – Patanjali Ashvashila Capsule

पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल में मुख्य रूप से अश्वगंधा और शिलाजीत को मिलाकर तैयार किया गया है। पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल आयुर्वेदिक दवा है जिसका इस्तेमाल पुरुषों में ढीलापन की समस्या को दूर करने के लिए किया जा सकता है।

पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल को दिन में दो बार खाना खाने के बाद सेवन कर सकते है। इसकी एक-एक कैप्सूल को सुबह और शाम दूध या पानी के साथ सेवन कर सकते हैं। आपको बता दें कि दूध के साथ सेवन करने से ज्यादा फायदा मिलता है।

पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल
पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल

(5) पतंजलि मूसली पाक – Patanjali Moosli Pak

ढीलापन की दवा पतंजलि – मूसली पाक का इस्तेमाल पुरुषों में ढीलापन को दूर करने के लिए किया जा सकता है। पतंजलि मूसली पाक को हर्बल वियाग्रा” के नाम से भी जाना जाता है। जिसका सेवन करने से पुरुषों में शीघ्रपतन, ढीलापन, नपुसंकता, खड़ा ना होना जैसी समस्याएं दूर हो जाती है।

पतंजलि मूसली पाक चूर्ण के रूप में आता है। 5 ग्राम चूर्ण को दिन में दो बार दूध के साथ सेवन कर सकते हैं। इस दवा का सेवन करने से पुरुषों में स्टैमिना और टाइमिंगकी बढ़ोतरी देखने को मिलती हैं।

पतंजलि मूसली पाक
पतंजलि मूसली पाक

(6) पतंजलि शतावरी चूर्ण – Patanjali Shatavar Churna

शतावरी का मतलब होता है ‘सौ रोगों का इलाज। पतंजलि शतावरी चूर्ण का सेवन करना पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। शतावरी एक ऐसी जड़ी बूटी है जिसका सेवन करने से प्रजनन प्रणाली में सुधार लाने में मदद मिलती है।

जो पुरुष शीघ्रपतन, ढीलेपन, नपुंसकता की समस्या से जूझ रहे हैं उन्हें पतंजलि शतावरी चूर्ण का सेवन करना चाहिए। इसके लिए रोजाना 3-10 ग्राम पतंजलि शतावरी चूर्ण दूध या पानी के साथ सेवन कर सकते हैं।

पतंजलि शतावर चूर्ण
पतंजलि शतावर चूर्ण

(7) पतंजलि गोक्षुरादि गुग्गुल – Patanjali Gokshuradi Guggul

पतंजलि गोक्षुरादि गुग्गुल एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों के उपचार में किया जाता है। पतंजलि गोक्षुरादि गुग्गुल में काली मिर्च, पीपली, आमलकी, गोक्षुरा की जड़, हरितकी, मुश्ता की जड़, गुग्गुलु की राल और अन्य प्राकृतिक जड़ी बूटियाँ मिलाई गई है।

ढीलापन की दवा पतंजलि के रूप में भी गोक्षुरादि गुग्गुल का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए पतंजलि गोक्षुरादि गुग्गुल की 1-1 गोलियों को सुबह और शाम खाना-खाने के बाद सेवन कर सकते हैं।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि ढीलापन की दवा पतंजलि कौन-कौन से है। शारीरिक सम्बन्ध के दौरान पुरुष का औजार सख्त होना बहुत ही आवश्यक हैं नहीं तो महिला साथी को संतुष्टि नहीं मिलती है। ऐसे मे पुरुष को शर्मिंदगी और परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अगर आपका औजार भी खड़ा नहीं होता है और उसके ढीलापन रहता है तो इस पोस्ट में बताई गई ढीलापन की दवा पतंजलि का इस्तेमाल कर सकते हैं।

नोट – इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए यहाँ पर बताई गई किसी भी दवा या मान्यता को अमल करने से पहले डॉक्टर या सम्बंधित विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

इन्हें भी पढ़ें–

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *