रोज बीज गिराने से क्या होता है, भूलकर भी न करें ये गलती

रोज बीज गिराने से क्या होता है – अगर आप भी रोज बीज गिराते है तो इस आदत को जितना जल्दी हो सके छोड़ दें, नहीं तो आपके शरीर को नुकसान पहुच सकता है।

कई लोग ऐसे होते हैं जो अपने अकेलेपान को दूर करने के लिए हस्तमैथुन का सहारा लेते हैं। अगर आप सीमित मात्रा में हस्तमैथुन करते है तो शरीर को फायदा मिलता है। ज्यादा हस्तमैथुन करने से आपके शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है।

आज के इस पोस्ट में हम जानेगे कि रोज बीज गिराने से क्या होता है और हस्तमैथुन करने से शरीर में कमजोरी क्यों आती है। यह एक ऐसा टॉपिक है जिसपर लोग खुलकर बात नहीं करते हैं लेकिन इसके बारे में जानना बहुत आवश्यक है। इसलिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

रोज बीज गिराने से क्या होता है
रोज बीज गिराने से क्या होता है

रोज बीज गिराने से क्या होता है

रोज बीज गिराने से व्यक्ति के अंदर कमजोरी आने लगती हैं। जिससे मानसिक तनाव और लिंग में सूजन बनी रहती है। रोज बीज गिराने से शरीर में शुक्राणु के संख्या कम होने लगती है और संतान प्राप्ति में समस्या होने लगती है।

पुरुष और महिला दोनों के शरीर में बीज या वीर्य होता है जो संतान प्राप्ति में काम आता है। जब कोई व्यक्ति अनैतिक तरीके से इस वीर्य को गिराकर नष्ट करता है तो उसके शरीर में कई प्रकार की विकृतियां उत्पन्न होती हैं।

आयुर्वेद के अनुसार वीर्य का एक बूंद खून 40 की बूंदो से मिलकर बनती हैं। और जब आप अनावश्यक रूप से वीर्य को नष्ट करते हैं तो शरीर कमजोर होने लगता है, आपके शरीर की इम्युनिटी कमजोर होने लगती हैं जिससे कई प्रकार की बीमारियाँ होने का खतरा रहता है।

रोज बीज गिराने से होने वाले नुकसान

हमारे शरीर में वीर्य बनने की प्रक्रिया अपने आप होती है। अगर आप वीर्य को बाहर नहीं निकालते हैं तो यह कुछ हप्तों बाद अपने-आप बाहर निकल जाता है जिसे नाईट फाल भी कहते हैं। लोग अपनी संतुष्टि के लिए वीर्य गिराते हैं। वैसे वीर्य गिराने ज्यादा कुछ नुकसान नहीं होता हैं।

लेकिन जब आप एक दिन में कई बार वीर्य गिराते हैं और लंबे समय तक ऐसे ही करते रहते हैं तो आपके शरीर को कई प्रकार के नुकसान हो सकते हैं।

तो चलिए जानते हैं कि रोज बीज गिराने से कौन-कौन से नुकसान हो सकते हैं।

(1) शारीरिक कमजोरी

रोज बीज गिराने से शारीरिक कमजोरी होने लगती है और व्यक्ति को ऐसे महसूस होता कि उसके अन्दर की शक्ति ख़त्म हो गई है।

जो लोग अपनी उत्तेजना को शांत करने के लिए रोजाना वीर्य निकालते हैं चाहे इसमें आपका पार्टनर शामिल हो या न हो। इस प्रक्रिया में आपके शरीर की ऊर्जा कम हो जाती है जिससे कमजोरी महसूस होने लगती है।

(2) लिंग में सूजन

पुरुष अपनी उत्तेजना को शांत करने के लिए हस्तमैथुन का सहारा लेते हैं। हस्तमैथुन प्रक्रिया के दौरान लिंग में तेज दवाब पड़ता है जिससे लिंग में सूजन की समस्या हो सकती है।

इसके अलावा ज्यादा स्तमैथुन करने से वीर्य के साथ अन्य ज़रूरी तत्व बाहर निकाल जाते हैं जिसकी जिसकी वजह से लिंग में सूजन और दर्द होने लगता है। इस समस्या से बचने के लिए आपको हस्तमैथुन नहीं करना चाहिए।

(3) शुक्राणुओं में कमी

रोज बीज गिराने से व्यक्ति के शरीर में शुक्राणुओं की संख्या में कमी आ जाती है। जिसके परिणाम स्वरुप शादी होने के बाद संतान प्राप्त करने में समस्या होने लगती है।

हस्तमैथुन के पुरुष ही नहीं करते हैं बल्कि कई सारी महिलाएं भी अपनी उत्तेजना को शांत करने के लिए करती हैं। अत्यधिक हस्तमैथुन करने से शुक्राणुओं की संख्या में कमी हो जाती है साथ ही मानसिक तनाव भी होने लगता है जिसकी जिसकी वजह से पति-पत्नी के बीच नोकझोंक होती है।

(4) उत्तेजना में कमी

जो लोग रोजाना हस्तमैथुन करते हैं उन्हें विवाह के बाद पत्नी से सम्बन्ध बनाने का मन नहीं करता है जिसके कारण उनके रिश्ते खराब होने लगते है।

रोज बीज गिराने से व्यक्ति के शरीर की उत्तेजना शक्ति कमजोर होने लगती है। इसके अलावा जब वो अपने पार्टनर के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाते हैं तो जल्दी डिसचार्ग हो जाते हैं।

(5) पाचनशक्ति कमजोर

हम सभी भलीभांति जानते हैं कि पाचनशक्ति कमजोर पड़ने से भोजन ठीक तरीके से नहीं पचता है जिससे कई प्रकार की बीमारियाँ होने का खतरा रहता है।

रोज बीज गिराने से व्यक्ति का पाचनशक्ति कमजोर पड़ने लगती है और भोजन पचने में अधिक समय लगता है। अत्यधिक हस्तमैथुन करने से हमारे शरीर से जरूरी तत्व बाहर निकल जाते हैं जिससे शरीर कमजोर और पाचन तंत्र निष्क्रिय हो जाता है।

FAQ – रोज बीज गिराने से क्या होता है

रोज बीज गिराने से क्या होता है?

रोज बीज गिराने से शरीर कमजोर हो जाता हैं जिससे कई प्रकार की बीमारियाँ घेरने लगती है।

पुरुष का स्पर्म कितना होना चाहिए जिससे बच्चा ठहर सकता है?

बच्चा पैदा करने के लिए पुरुष के शरीर में 15 मिलियन प्रति एमएल से अधिक स्पर्म होना चाहिए।

क्या पुरुष अपना स्पर्म पी सकता है?

हाँ, पुरुष अपना स्पर्म पी सकता है।

1 दिन में कितना स्पर्म बनता है?

1 दिन में 5 ग्राम तक स्पर्म बनता है।

क्या खाने से स्पर्म ज्यादा बनता है?

स्पर्म बढ़ाने के लिए आप अखरोट, अंडे, लहसुन, गाजर, पालक, कद्दू के बीज, अनार का सेवन कर सकते हैं।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि रोज बीज गिराने से क्या होता है। लड़का हो या लडकी अगर रोज बीज गिराने की आदत पड़ जाए तो ये जल्दी नहीं छूटती है। हस्तमैथुन एक प्रकार का नसा है। बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो चंद मिनट का मजा लेने के लिए रोज बीज गिराते हैं। इससे उनका शरीर कमजोर और अन्य स्वस्थ संबंधी समस्याएं होने लगती है

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट जरूर पसंद आयी होगी। अगर आपके मन में इस पोस्ट से जुड़े कोई सवाल या सुझाव हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

इन्हें भी पढ़ें–

5/5 - (1 vote)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *